भारत पहला मैच खेलेगा और वर्ल्ड कप बदल जाएगा: लंदन से वर्ल्ड कप क्रिकेट डायरी

  • 4 जून 2019
अफ़गानिस्तान टीम इमेज कॉपीरइट Getty Images

वर्ल्ड कप क्रिकेट में भारत अपने अभियान की शुरुआत बुधवार को दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ़ खेले जाने वाले मुक़ाबले से करेगा.

इस मुक़ाबले से पहले जिस तरह से दो धमाकेदार मैच हुए हैं उससे लग रहा है कि वर्ल्ड कप का उत्साह पहले सप्ताह में ही चरम पर पहुंचने वाला है. ऐसे में दक्षिण भारत के एक छोटे से शहर निकल कर मैं अपने पेशे की चुनौतियों के तहत उन 500 लोगों में शुमार हूं जो वर्ल्ड कप क्रिकेट को कवर कर रहे हैं.

लंदन में जो पहला कैब ड्राइवर मिला वो भी क्रिकेट वर्ल्ड कप का एक्सपर्ट निकला. उसने बताया, ''ब्रिटेन में हुए पिछले आईसीसी वर्ल्ड कप के मुकाबले जिस तरह स्थानीय टीम खेल रही है उस हिसाब से ये सबसे मज़ेदार टूर्नामेंट होगा. इस बार हम किसी को अवार्ड देने नहीं जा रहे. बस वर्ल्डकप लेने जा रहे हैं.''

रविवार की दोपहर लंदन की सड़कें इतनी व्यस्त नहीं रहतीं जितनी आमतौर पर होती हैं. सोमवार की सुबह ऑफ़िस जाने वालों के लिए ये आम बात है. स्टेडियम के पास वाले क्षेत्र के अलावा वर्ल्ड कप के बैनर और विज्ञापन आपको कहीं नहीं दिखाई देंगे.

लेकिन क्रिकेट और अपने पसंदीदा स्टार के बारे में बात करते कई एशियाई लोग मिल जाएंगे. इसी वज़ह से यूरोप वाले खेल के बारे में और जानने के लिए ब्रिटेन घूमने आते हैं.

इमेज कॉपीरइट LINDSEY PARNABY

एक ब्रिटिश यात्री पूरे विश्वास से बताते हैं, ''हां, ये आईसीसी वर्ल्ड कप हमारे लिए सबसे अच्छा होगा. हमारी टीम सच में अच्छा खेल रही है. हमारी बल्लेबाजी सभी टीम को टक्कर देने वाली है.''

ब्रिटिश मानते हैं कि उनकी टीम के लिए सबसे अच्छा टूर्नामेंट होगा. 1992 के बाद से इंग्लैड सेमी-फाइनल में नहीं पहुंचा पाया है.

इस सवाल पर कि वे टूर्नामेंट को कैसे मनाते हैं तो उनका जवाब था, ''हम एशियंस के प्रदर्शन को सेलिब्रेट नहीं करते. फुटबॉल के लिए ये अलग बात है. लेकिन क्रिकेट में हम खेल का मज़ा लेते हैं और चाहते हैं कि हमारी टीम जीते.''

'भारत को मैच खेलने दो'

कॉफी पब में अचानक चिल्लाकर दीपाली ने सबको हैरान कर दिया. वे कहती हैं, ''भारत को अभी पहला मैच और खेलना है. आप खुद देख सकते हैं कि भारतीय टीम के मैच के बाद कितना बदलाव आता है. और भारत-पाकिस्तान का गेम मैनचेस्टर में है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन जीतता है लेकिन मैं आपको बता रही हूं कि टूर्नामेंट का ये मैच कैसा मैच होगा.''

ये भी पढ़ें- न्यूज़ीलैंड ने दिखाया दस का दम, श्रीलंका सरेंडर

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इसी में आगे जोड़ते हुए उनके दोस्त कहते हैं, ''लंदन की कुछ पॉकेट में काफ़ी मात्रा में भारतीय समुदाय रहता है. आप साउथहॉल आ सकते हैं, असल में वो छोटा पंजाब है. टूटिंग में बहुत से तमिल रहते हैं, वेम्बली और कई जगहों पर आधे गुजराती मिल जायेंगे. लेकिन क्रिकेट उन्हें एकता में बांधकर रखता है. क्रिकेट मैच वाले दिन आप खुद देख सकते हैं.''

मैंने कहा कि मैं बहुत से चाबी के छल्ले, टी-शर्ट, भारतीय खिलाड़ियों के नाम के कॉफ़ी मग भारतीय पॉकेट में बिकते हुए देख रहा हूं.

ये भी पढ़ें- क्रिकेट वर्ल्ड कप कौन सी टीम जीतेगी ?

विश्व कप में क्यों फेवरेट है पाकिस्तान क्रिकेट टीम?

पाकिस्तान और भारत से सावधान

लेकिन उत्साहित फैंस केवल भारतीय ही नहीं है. पाकिस्तानी, अफ़गानी और बांग्लादेशी भी अपने देश की जड़ से काफ़ी जुड़े हुए हैं.

''क्या आप राशिद खान को पसंद करते हैं'' ऑक्सफोर्ड की गली में एक अति उत्साही अफ़गानी दुकानदार ने पूछा, जिसका जवाब सुनकर उसके चेहरे पर मुस्कान आ गई.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मैंने कहा, 'क्यों नहीं, वो एक बहुत ही अच्छा बॉलर है, जिसका अफ़गानिस्तान और आईपीएल में काफ़ी योगदान है.'

''देखिए, यूरोपियन क्रिकेट नहीं खेलते. यहां हर जगह फुटबॉल और टेनिस दिखता है. क्रिकेट और राशिद खान जैसे खिलाड़ी अफ़गानिस्तान को आगे ले आए. आख़िरकार, अफ़गानिस्तान कई नकारात्मक कारणों से सुर्खियों में रहा है'', उस दुकानदार ने जोर देते हुए कहा जो बचपन में लंदन आ गए थे.

उसके अंतिम शब्द थे, ''सावधान भारत और पाकिस्तान, हम आ रहे हैं और इस टूर्नामेंट में आपको हैरान करने वाले हैं.''

इसलिए ब्रिटेन में क्रिकेट कार्निवल ने कई लोगों को परेशान किया हुआ है. एशियाई लोगों के जश्न ने ब्रिटिश लोगों को चौंका दिया है. लेकिन ब्रिटिश लोगों का कहना है कि टूर्नामेंट में उनका प्रदर्शन सभी को चौंका देगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार