विश्व कप 2019: इस बार भी भारत से नहीं जीत पाया पाकिस्तान

  • 17 जून 2019
भारत और पाकिस्तानी खिलाड़ी इमेज कॉपीरइट PA

इंग्लैंड में खेले जा रहे 12वें आईसीसी विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट में रविवार को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मैच को भारत ने बड़ी आसानी से 89 रन से जीत लिया.

पाकिस्तान के सामने जीत के लिए 337 रन का लक्ष्य था लेकिन जब एक समय बारिश के कारण खेल रुकने के बाद दोबारा शुरू हुआ तो डकवर्थ लूइस नियम के आधार पर उसे जीतने के लिए 40 ओवर में 302 रन का लक्ष्य मिला.

लेकिन पाकिस्तान छह विकेट खोकर 212 रन ही बना सका.

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाज़ी की दावत पाकर भारत ने निर्धारित 50 ओवर में पांच विकेट खोकर 336 रन बनाए.

वैसे पाकिस्तान ने कुछ पलटवार करने की कोशिश की और एक समय पाकिस्तान का स्कोर 23.6 ओवर में दो विकेट खोकर 117 रन था.

तब तक भी पाकिस्तान मुक़ाबले में नज़र आ रहा था, लेकिन इसके बाद एक के बाद एक लगातार गिरते हुए विकेट ने पाकिस्तान की हालत ख़राब कर दी.

मैच ने इस कदर करवट ली कि पाकिस्तान का स्कोर अचानक स्कोर बोर्ड पर पांच विकेट खोकर 129 रन दिखाई देने लगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption बाबर आज़म

दरअसल दूसरे विकेट के रूप में पहले तो 117 रन के स्कोर पर बाबर आज़म 48 रन बनाकर कुलदीप यादव की गेंद पर बोल्ड हो गए.

इसके बाद स्कोर जब 126 रन तक पहुंचा तब सलामी बल्लेबाज़ फ़ख़र ज़मां ने अपना धैर्य खोया और वह 62 रन के निजी स्कोर पर कुलदीप यादव की गेंद पर युज़्वेंद्र चहल को कैच दे बैठे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption युज़्वेंद्र चहल

पाकिस्तान के गिरते गए विकेट

इसके बाद भी पाकिस्तान के विकेट का पतन नहीं रूका.

अब आउट होने की बारी पाकिस्तान के मोहम्मद हफ़ीज़ की थी. वह भी केवल नौ रन बनाकर हार्दिक पांड्या की गेंद पर विजय शंकर को कैच देकर चलते बने.

अब तक मैच पूरी तरह भारत की पकड़ में आ चुका था. कप्तान विराट कोहली समेत तमाम भारतीय फ़ील्डर चुस्ती-फुर्ती में दिखाई देने लगे.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption जोश में भारतीय खिलाड़ी

मोहम्मद हफ़ीज़ के बाद पाकिस्तान के सबसे अनुभवी बल्लेबाज़ शोएब मलिक तो विकेट पर बस आए और गए.

उनका ख़ाता तक नहीं खुला. वह पहली गेंद खेलते हुए ही हार्दिक पांड्या की गेंद पर बोल्ड हो गए.

पाकिस्तान ने 117 रन से 129 रन तक पहुंचने में ही अपने चार सबसे कीमती विकेट खो दिए.

हालांकि सलामी बल्लेबाज़ इमाम उल हक़ के रूप में पहली सफलता हासिल करने में भारत को बहुत देर नहीं लगी थी.

इमाम उल हक़ केवल सात रन बनाकर इस विश्व कप में अपना पहला मैच खेल रहे विजय शंकर की गेंद पर एलबीडब्लू हो गए. उन्होंने केवल सात रन बनाए. पाकिस्तान का पहला विकेट केवल 13 रन पर गिरा.

इसके बाद दूसरे विकेट के लिए फ़ख़र ज़मां और बाबर आज़म के बीच 104 रन की साझेदारी हुई.

इस साझेदारी ने पाकिस्तान की पारी को संभाला लेकिन बाबर आज़म का विकेट गिरने के बाद पाकिस्तान का मध्यम क्रम ताश के पत्तों की तरह ढह गया.

पाकिस्तान इस क़दर दबाव में था कि उसके कप्तान सरफराज़ अहमद भी ज़िम्मेदारी का बोझ नहीं उठा सके.

वह छठे विकेट के रूप में विजय शंकर की गेंद पर केवल 12 रन बनाकर बोल्ड हुए.

बारिश ने डाली ख़लल

इसके बाद जब पाकिस्तान का स्कोर एक समय 35 ओवर में छह विकेट खोकर 166 रन था तब बारिश के कारण खेल रुका.

इसके बाद डकवर्थ लूइस नियम के आधार पर पाकिस्तान को जीत के लिए 40 ओवर में 302 रनों का लक्ष्य दिया गया.

लेकिन इस असंभव को संभव बनाना पाकिस्तान के बल्लेबाज़ों के लिए नामुमकिन था और वह छह विकेट खोकर 212 रन ही बना सकी.

पाकिस्तान के इमाद वसीम 46 और शादाब खान 20 रन बनाकर नाबाद रहे.

भारत के कुलदीप यादव, हार्दिक पांड्या और विजय शंकर ने दो-दो विकेट अपने नाम किए.

सलामी जोड़ी की शतकीय पारी

इससे पहले पाकिस्तान के कप्तान सरफ़राज़ अहमद में टॉस जीतकर पहले फ़ील्डिंग करने का फ़ैसला किया.

इसे ग़लत साबित करते हुए भारत की सलामी जोड़ी रोहित शर्मा और चोटिल शिखर धवन की जगह ओपनिंग करने उतरे केएल राहुल ने पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़कर पाकिस्तानी गेंदबाज़ो के हौसले ही तोड़ दिये.

रोहित शर्मा ने अपनी शानदार फॉर्म बरक़रार रखते हुए इस विश्व कप में अपना दूसरा शतक बनाते हुए 140 रन बनाए.

उन्होंने इस दौरान केवल 113 गेंदों का सामना किया और 14 चौके और तीन छक्के जमाए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption रोहित शर्मा

दूसरी तरफ़ केएल राहुल ने भी 78 गेंदों पर 57 रन बनाए. रोहित शर्मा वहाब रियाज़ और रोहित शर्मा हसन अली का शिकार बने.

रोहित शर्मा और केएल राहुल के पैवेलियन लौटने के बाद भी पाकिस्तान के गेंदबाज़ों की मुश्किल कम नहीं हुई. क्योंकि इसके बाद भारत के कप्तान विराट कोहली ने भी केवल 65 गेंदों पर सात चौके के सहारे शानदार 77 रन बनाए.

हांलाकि जब वह तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद आमिर की गेंद पर विकेटकीपर सरफ़राज़ अहमद के हाथों कैच होकर वापस पैवेलियन लौटे तो पता चला कि गेंद ने उनके बल्ले का किनारा नहीं लिया था.

एक तरह से वह नॉट आउट थे लेकिन उन्होंने अंपायर की तरफ़ देखा तक नहीं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ख़ैर इससे भारत पर कोई विशेष फ़र्क़ नहीं पड़ा. जब विराट कोहली आउट हुए तब भारत का स्कोर 47.4 ओवर में पांच विकेट खोकर 314 रन हो चुका था.

वैसे उनसे पहले हार्दिक पांड्या 26 और महेंद्र सिंह धोनी केवल एक रन बनाकर आउट हुए.

आख़िरकार विजय शंकर 15 और केदार जाधव नौ रन बनाकर नाबाद रहे. इस तरह भारत ने निर्धारित 50 ओवर में पांच विकेट खोकर 336 रन जैसा बड़ा स्कोर खड़ा किया.

पाकिस्तान के तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद आमिर ने 10 ओवर में 47 रन देकर तीन विकेट हासिल किए.

उनके अलावा हसन अली और वहाब रियाज़ ने एक-एक विकेट अपने नाम किया.

पाकिस्तान पर आसान जीत के बाद अब भारत का अगला मुक़ाबला 22 जून को अफ़ग़ानिस्तान से होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार