महिलाओं के फ़ुटबॉल वर्ल्ड कप में छाई यह खिलाड़ी

  • 18 जून 2019
क्रिश्चियन एंडलर इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption क्रिश्चियन एंडलर

इस वक़्त खेल की दुनिया में दो बड़ी स्पर्धाएं चल रही हैं. पहली इंग्लैंड में क्रिकेट विश्व कप और दूसरी फ्ऱांस में महिलाओं का फ़ुटबॉल विश्व कप.

महिला फ़ुटबॉल विश्व कप में 27 साल की एक खिलाड़ी की ख़ासी चर्चा है. यह हैं चिली की गोलकीपर क्रिश्चियन एंडलर जो अपने खेल से ख़ूब प्रशंसाएं बटोर रही हैं.

रविवार को वह अमरीका के ख़िलाफ़ अपनी टीम को 3-0 से मिली हार तो नहीं टाल सकीं लेकिन अपने प्रदर्शन से उन्होंने ख़ास छाप छोड़ी.

बीबीसी के कमेंटेटर जोनाथन पीयर्स के अनुसार इस मैच में एंडलर ने महिला विश्व कप इतिहास के संभवत: सर्वश्रेष्ठ गोल बचाए.

लेकिन सिर्फ़ पत्रकार ही उनके खेल की तारीफ़ नहीं कर रहे हैं.

अमरीकी टीम के तकनीकी निदेशक ने कहा, "क्रिश्चियन एंडलर ने बेहतरीन खेल खेला. हमें उनकी क्षमता पता है. वो विश्व स्तर की गोलकीपर हैं."

कौन हैं क्रिश्चियन एंडलर?

एंडलर फ्रेंच पेरिस सेंट जर्मेन के लिए खेलती हैं. वो सैंटियागो में पैदा हुई थीं और उन्होंने 16 साल की उम्र से चिली की राष्ट्रीय टीमों के लिए खेलना शुरू कर दिया था.

पेरिस से पहले वो अमरीका, इंग्लैंड और स्पेन में हुए टूर्नामेंट्स में खेल चुकी हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

उन्होंने 2012 में चिली कोलो कोलो के साथ कोपा लिबर्टाडोरेस जीता, जिसके बाद उन्हें चिली के सर्वश्रेष्ठ फ़ुटबॉलर के रूप में पांच बार मान्यता मिल चुकी है.

मैच के बाद एंडलर ने कहा, ''मुझे दुख है कि हम हार गए लेकिन अपने प्रदर्शन के लिए मैं खुश हूं. हार को लेकर संवेदनाएं घुली-मिली हैं. लेकिन खेलकर मैं संतुष्ट हूं ख़ासतौर पर यहां इस स्टेडियम में जो मेरा घर है.''


ये भी पढ़ें


उन्होंने बताया कि विश्व कप तक पहुंचने के लिए और ऐसा प्रदर्शन देने के लिए उन्होंने बहुत मेहनत की है.

रविवार को अमरीका के साथ होने वाले मैच को देखने के बाद प्रसिद्ध पूर्व अमरीकी खिलाड़ी एलेक्सी लालस ने कहा, ''एंडलर विश्व की बेस्ट गोलकीपर हैं.''

फ़ुटबॉल के लोगों के अलावा भी उनके खेल को कई जगहों से तारीफ़ें मिली हैं.

न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में लिखा, ''चिली की गोलकीपर क्रिश्चियन एंडलर के कारण ही चिली की टीम को उतनी बड़ी हार का सामना नहीं करना पड़ा जितनी बड़ी हार अमरीका ने थाईलैंड को दी थी.''

अमरीका ने थाईलैंड को 13-0 से हराया था.

अमरीका पिछले तीन फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप अपने नाम कर चुका है अमरीका की महिला फ़ुटबॉल टीम विश्व की बेहतरीन टीमों में से एक है.

आख़िर में न्यूयॉर्क टाइम्स ने लिखा- एंडलर को 'प्लेयर ऑफ़ द गेम' का ख़िताब दिया गया. एक गोलकीपर के साथ ये अक्सर नहीं होता है कि उसी खेल में उनकी टीम तीन गोल से हार जाए और मुक़ाबले से बाहर हो जाए.

एंडलर ने इस बारे में कहा, ''खेल के परिणाम के बावजूद ये ख़िताब हासिल करना एक बड़ी उपलब्धि है.''

उन्होंने कहा, ''महिला फ़ुटबॉल के विकास और सहयोग में कई बड़ी टीमों को हमारे मुकाबले कई साल का लाभ है. हमारी टीम अभी नई है, शौकिया तौर पर खेलती है. हमारी कई खिलाड़ियों को पेशेवर फुटबॉल खेलने के लिए देश छोड़कर जाना पड़ता है.''

अपनी बात में आगे जोड़ते हुए एंडलर ने कहा, ''ये कुछ बड़ी और ज़रूरी चीज़ों की शुरुआत है जिससे अधिक लड़कियां पेशेवर रूप से फ़ुटबॉल खेलने के लिए ख़ुद को समर्पित कर पाएं.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार