भारत से मैच से पहले जो रूट के मुंह में पानी क्यों

  • 27 जून 2019
जो रूट इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption जो रूट

इंग्लैंड में जारी क्रिकेट विश्व कप में मेजबान टीम के लिए हालात मुश्किल हो गए हैं. सेमीफ़ाइनल में पहुंचने के लिए इंग्लैंड को अपने बचे हुए दोनों मुक़ाबले तो जीतने होंगे ही साथ ही उसे दूसरी टीमों के नतीजों पर भी निर्भर रहना होगा.

ऐसे में टीम के सबसे प्रमुख बल्लेबाज़ जो रूट को विश्वास है कि उनकी टीम अभी भी दुनिया की सबसे बेहतरीन टीम है और विश्वकप में वो दोबारा जीत के रास्ते पर लौट आएंगे.

ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका और पाकिस्तान से मिली हार ने इंग्लैंड के लिए विश्व कप की राह मुश्किल कर दी. इंग्लैंड को अपने बचे हुए दोनों मुक़ाबले भारत और न्यूज़ीलैंड जैसी मज़बूत टीमों के ख़िलाफ़ खेलने हैं.

रूट ने बीबीसी स्पोर्ट्स के साथ विशेष बातचीत में कहा, ''हमें शांत होकर हालात का जायज़ा लेना होगा. हम जानते हैं कि अगर एकजुट होकर प्रदर्शन करेंगे तो हम अपना सर्वश्रेष्ठ देने में कामयाब रहेंगे.''

''हमें इस बात पर भरोसा रखना होगा कि जब हम एकजुट होते हैं तो हम सबसे बेहतरीन टीम बन जाते हैं.''

प्रबल दावेदार

विश्वकप की शुरुआत से ही इंग्लैंड को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है.

लेकन मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया ने लॉर्ड्स में इंग्लैंड को 64 रनों से हरा दिया, इससे पहले इंग्लैंड को श्रीलंका के हाथों भी अप्रत्याशित हार झेलनी पड़ी थी.

टूर्नामेंट की शुरुआत में इंग्लैंड को पाकिस्तान के ख़िलाफ़ भी हार का स्वाद चखना पड़ा था. फ़िलहाल इंग्लैंड सात मैचों चार जीत और तीन हार के साथ आठ अंक लेकर चौथे स्थान पर मौजूद है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इंग्लैंड की क्रिकेट टीम

सेमीफ़ाइनल की मुश्किल डगर

सेमीफ़ाइनल तक पहुंचने के लिए अब इंग्लैंड को पाकिस्तान, श्रीलंका और बांग्लादेश से कड़ी चुनौती मिल रही है. इंग्लैंड को भारत और न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ अपने दोनों मैच जीतने बेहद ज़रूरी हो गए हैं.

जो रूट का मानना है कि अभी भी हालात उनके हाथों से बाहर नहीं हुए हैं. उनका कहना है कि विश्व विजेता बनने के लिए उनकी टीम को अपने चारों मुक़ाबलें जीतने होंगे.

उनका मानना है कि हालात को इस नज़रिए से देखना थोड़ा सुखद लगता है.

वो कहते हैं, ''अगर हम ये आखिरी दो मैच जीत जाते हैं तो, हम सेमीफ़ाइनल में अपनी जगह पक्की कर लेंगे.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टीम टॉप स्थान से नीचे गिरी

लगातार मिली हार से पहले इंग्लैंड की टीम बेहद शानदार प्रदर्शन कर रही थी. अफ़ग़ानिस्तान ख़िलाफ़ इंग्लैंड ने करीब-करीब 400 का आंकड़ा छू ही दिया था.

उस मैच में इंग्लैंड के कप्तान मॉर्गन ने 17 छक्के मारने का रिकॉर्ड बनाया था. उस समय इंग्लैंड अंकतालिका में टॉप पर चल रहा था.

जो रूट कहते हैं, ''विश्वकप जैसे टूर्नामेंट में हालात बहुत तेज़ी से बदल जाते हैं. एक हफ़्ते पहले हम कहां क़ाबिज़ थे और अब मौजूदा समय में लोग हमें ख़ारिज ही करने जा रहे हैं.''

''यह बेहतरीन अवसर है कि हम ऐसे तमाम लोगों को गलत साबित कर सकें. हमें अपने दो मज़बूतत प्रतिद्वंदियों के ख़िलाफ़ पूरी ताकत से खेलना होगा.''

रविवार को भारत के ख़िलाफ़ होने का मुक़ाबला इंग्लैंड के लिए मैदान के भीतर और बाहर दोनों जगह चुनौतीपूर्ण रहेगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली

इस विश्वकप में भारत ने अभी तक सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया है और एजबेस्टन के मैदान पर उसके समर्थकों के भारी मात्रा में पहुंचने की उम्मीद भी है.

इस चुनौती के बारे में रूट कहते हैं, ''ये तो बहुत ही लाजवाब चुनौती होगी, क्यों आपको नहीं लगता?''

''मैं सचमुच इस मैच का इंतज़ार कर रहा हूं. जब वहां ढेर से भारतीय समर्थक होंगे तो वह मैच मेरे लिए और भी ज़्यादा मज़ेदार बन जाएगा.''

''ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ मैच में क्या गलत हुआ यह जानने के लिए हमारे पास कुछ दिन हैं. हमें अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रखना होगा. जब हम एक साथ आएंगे और अभ्यास करेंगे तो हम अपने ट्रेनिंग सत्र का भी आनंद लेंगे.''

ये भी पढ़ेंः

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार