#INDvBAN मैच के दौरान विराट-रोहित को आशीर्वाद देने वाली महिला कौन?

  • 3 जुलाई 2019
भारत-बांग्लादेश मैच इमेज कॉपीरइट Reuters

क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 का एक बेहद अहम मुक़ाबला मंगलवार को बर्मिंघम के एजबेस्टन में भारत और बांग्लादेश के बीच खेला गया. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी भारतीय टीम ने नौ विकट खोकर 314 रन बनाए और बांग्लादेश को 28 रनों से हराकर सेमीफ़ाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली.

शतक बनाने वाले रोहित शर्मा मैन ऑफ़ द मैच चुने गये लेकिन मैच के दौरान और मैच के बाद जिस एक चेहरे ने सबसे अधिक सुर्खियां बटोरीं वो कोई क्रिकेटर नहीं हैं.

ये थी 87 साल की चारुलता. इन्हें सोशल मीडिया पर 'फ़ैन ऑफ़ द टूर्नामेंट' तक कहा जाने लगा है.

दर्शक दीर्घा में बैठकर जिस तरह चारुलता पटेल टीम इंडिया को चीयर कर रही थीं, वो देखते ही बन रहा था. मैच के दौरान उनके जोश को कैमरे ने कई बार कैद किया. कमेंटेटर सौरव गांगुली और हर्षा भोगले ने भी उनकी चर्चा की.

आखिर जब भारत जीत गया तो शतकवीर रोहित शर्मा और कप्तान विराट कोहली भी उनसे मिलने पहुंचे.

व्हील चेयर पर आई चारुलता ने दोनों खिलाड़ियों को जीत की बधाई दी और आशीर्वाद भी. आईसीसी ने चारुलता के साथ एक छोटा सा इंटरव्यू भी किया.

विराट कोहली और रोहित शर्मा के साछ चारुलता की तस्वीरें इंटरनेट पर वायरल हो चुकी हैं.

विराट कोहली ने उनसे मिलने के बाद अपने ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट भी किया.

"हम अपने सभी प्रशंसकों के प्यार और साथ के लिए उन्हें धन्यवाद कहना चाहेंगे, ख़ासतौर पर चारुलता पटेल जी को. वो 87 साल की हैं और मैंने अभी तक जितने लोगों को देखा है वो उनमें संभवत: सबसे अधिक समर्पित प्रशंसक हैं. उम्र तो सिर्फ़ एक संख्या है, आपका जोश और जुनून आपको कहीं भी ले जा सकता है. उनके आशीर्वाद के साथ अगले लक्ष्य की ओर..."

चारुलता पटेल हैं कौन?

चारुलता ने मैच ख़त्म होने के बाद दिए इंटरव्यू में बताया कि उनका जन्म भारत में नहीं बल्कि तंजानिया में हुआ है. अपने क्रिकेट के शौक और जुनून के बारे में उन्होंने कहा कि उनके बच्चे काउंटी क्रिकेट खेलते हैं और उन्हें देख-देखकर ही वो इस खेल की प्रशंसक बन गईं. उन्होंने बताया कि उनके माता-पिता भारत से हैं और इसीलिए वो इस मैच में भारत को चीयर करने आईं.

चारुलता ने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि भारत इस बार विश्व कप जीतेगा. एनआई को दिए एक इंटरव्यू में चारुलता ने कहा कि वो भगवान गणेश से भारत की जीत के लिए प्रार्थना करेंगी.

उन्होंने बताया कि जब भारत पहली बार साल 1983 में क्रिकेट विश्व विजेता बना था तो उस वक़्त भी वो इंग्लैंड में ही थीं.

चारुलता ने बताया कि क्रिकेट उन्हें बहुत पसंद है लेकिन जब वो नौकरीपेशा थीं तो सिर्फ़ टीवी पर ही मैच देखती थीं लेकिन रिटायर होने के बाद वो जब भी मौक़ा मिलता है मैच देखने स्टेडियम आती हैं.

लोगों की प्रतिक्रिया

पत्रकार मज़हर अरशद ने भी चारुलता को लेकर ट्वीट किया.

उन्होंने लिखा "चारुलता का जन्म पहले विश्व कप से 43 साल पहले हुआ था और उन्होंने क्रिकेटर्स की कई पीढ़ियों को देखा है लेकिन उनका मानना है कि विराट कोहली सबसे अच्छे हैं. फ़ैन ऑफ़ द टूर्नामेंट."

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने टेलीविज़न के एक शॉट (विराट कोहली चारुलता को नमस्कार कर रहे हैं) का ज़िक्र करते हुए लिखा "द पिक्चर ऑफ़ द वर्ल्ड कप".

कुछ ऐसा ही वाकया 2019 के आईपीएल के दौरान भी देखने को मिला था जब एक बुजुर्ग महिला धोनी से मिलने पहुंची थीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार