वर्ल्ड कप 2019: पाकिस्तान वर्ल्ड कप की दौड़ में आख़िर कब तक?

  • 3 जुलाई 2019
इमेज कॉपीरइट Reuters

क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 में बांग्लादेश को 28 रनों से हरा कर भारतीय टीम सेमीफ़ाइनल में पहुंचने वाली दूसरी टीम बनी. वहीं बांग्लादेश टूर्नामेंट से बाहर होने वाला तीसरा एशियाई देश.

इससे पहले अफ़गानिस्तान और श्रीलंका टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं.

बुधवार को इस टूर्नामेंट के सेमीफ़ाइनल में पहुंचने वाली तीसरी टीम भी तय हो जायेगी. यह मुक़ाबला न्यूज़ीलैंड और इंग्लैंड के बीच होना है.

जो जीतेगा, अंतिम चार में उसकी जगह पक्की हो जायेगी.

इमेज कॉपीरइट TWITTER @ICC

लेकिन सेमीफ़ाइनल की चौथी टीम कौन बनेगी इसका फ़ैसला गुरुवार को पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच होने वाले मुक़ाबले से ही तय होगा.

बांग्लादेश तो बाहर हो चुका है लेकिन पाकिस्तान के पास अभी यह मौका बाकी है. लेकिन नॉकआउट चरण में उसका पहुंचना बहुत हद तक बुधवार यानी 3 जुलाई के न्यूज़ीलैंड-इंग्लैंड मुक़ाबले पर निर्भर करता है.

यह मैच न्यूज़ीलैंड और इंग्लैंड के लिए भी उतना ही महत्वपूर्ण है क्योंकि जो भी टीम इसमें हार गयी उसके भाग्य का फ़ैसला पाकिस्तान के मुक़ाबले पर टिका होगा.

पहली स्थितिः न्यूज़ीलैंड जीता तो क्या होगा?

इस मैच से पहले अंक तालिका में न्यूज़ीलैंड 11 और इंग्लैंड 10 अंकों के साथ तीसरे और चौथी स्थान पर काबिज हैं. यानी मुक़ाबला जीतने वाली टीम सेमीफ़ाइनल की तीसरी टीम बन जायेगी ये तो तय है.

लेकिन पाकिस्तान चाहेगा कि यह मुक़ाबला न्यूज़ीलैंड ही जीते क्योंकि कीवियों की जीत से इंग्लैंड के खाते में 10 अंक ही रह जायेंगे और बांग्लादेश से जीत कर सेमीफ़ाइनल की चौथी टीम बनना उनके लिए आसान होगा. बांग्लादेश से जीतने की स्थिति में पाकिस्तान के 11 अंक हो जायेंगे.

दूसरी स्थितिः इंग्लैंड जीता और न्यूज़ीलैंड हार गया

वहीं अगर यह मुक़ाबला इंग्लैंड जीत जाता है तो न्यूज़ीलैंड के 11 अंक ही रह जायेंगे और यह स्थिति पाकिस्तान के लिए बहुत महंगी साबित होगी क्योंकि तब बांग्लादेश से उसे बड़े अंतर से जीतना होगा ताकि उसे नेट रन रेट के आधार पर सेमीफ़ाइनल में जगह मिल सके.

अभी पाकिस्तान का नेट रन रेट -0.792 है जबकि न्यूज़ीलैंड का 0.572 है यानी अंतर 1 से अधिक का है. और इस अंतर को पाटना पाकिस्तान के लिए बड़ी ही टेढ़ी खीर साबित होगा.

वैसे नेट रन रेट के हिसाब से इंग्लैंड (नेट रन रेट 1 है) सबसे अधिक फायदे की स्थिति में है.

इमेज कॉपीरइट TWITTER @ICC WORLD CUP

नेट रन रेट की गणना कैसे होती है?

किसी टीम का नेट रन रेट पता करना हो तो इसके लिए बहुत ही आसान गणित है.

टीम ने टूर्नामेंट में जितने रन बनाये हैं. उसे उन ओवर्स से भाग दे दें जो उसने खेले हैं. दूसरे शब्दों में इसे पूरे टूर्नामेंट में किसी टीम का प्रति ओवर बल्लेबाज़ी औसत कह सकते हैं.

अब उस टीम के ख़िलाफ़ प्रति ओवर कितने रन बने हैं ये निकाल लें यानी गेंदबाज़ी औसत.

बल्लेबाज़ी से गेंदबाज़ी औसत को घटाने से निकल जायेगा नेट रन रेट.

लीग मैचों में भले ही पाकिस्तान ने न्यूज़ीलैंड और इंग्लैंड दोनों को मात दे रखी है लेकिन जब सेमीफ़ाइनल में पहुंचने का मुक़ाबला नेट रन रेट के आधार पर तय होगा तब वह इन दोनों टीमों से बहुत पीछे है और बहुत संभव है कि ऐसी स्थिति में यह पिछड़ जायेगी.

इमेज कॉपीरइट TWITTER @ICC

तीसरी स्थितिः बारिश न बिगाड़ दे पाकिस्तान का पूरा गणित!

इस टूर्नामेंट में अब तक चार मैच बारिश की वजह से धुल चुके हैं. श्रीलंका के ख़िलाफ़ पाकिस्तान का शुरुआती लीग मैच भी इसकी भेंट चढ़ चुका है. तो अगर बांग्लादेश के साथ मुक़ाबले में भी बारिश विलेन बनी तो पाकिस्तान का वर्ल्ड कप से बाहर होना तय हो जायेगा. क्योंकि तब नेट रन रेट के आधार पर वह बिना खेले ही बाहर हो जायेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार