Australia vs England 27 साल बाद इंग्लैंड वर्ल्ड कप के फ़ाइनल में पहुंचा

  • 11 जुलाई 2019
जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो इमेज कॉपीरइट Getty Images

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के दूसरे सेमीफ़ाइनल में पांच बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हरा कर इंग्लैंड की टीम चौथी बार फ़ाइनल में पहुंच गई. इसके साथ ही यह भी तय हो गया कि क्रिकेट वर्ल्ड कप के 44 साल के इतिहास में इस बार दुनिया को एक नया चैंपियन मिलेगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इंग्लैंड और न्यूज़ीलैंड के बीच 14 जुलाई को लॉर्ड्स में होगा फ़ाइनल मुक़ाबला

फ़ाइनल में इंग्लैंड और न्यूज़ीलैंड के बीच मुक़ाबला होगा और ये दोनों ही टीमें अब तक कभी वर्ल्ड कप चैंपियन नहीं बनी हैं.

टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम 49 ओवर में 223 रन बना कर ऑल आउट हो गयी.

जवाब में इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज़ों जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय ने शतकीय साझेदारी निभाई. दोनों ने पहले विकेट के लिए 124 रन जोड़े. इसके बाद कप्तान इयोन मोर्गन और जो रूट ने 79 रनों की नाबाद साझेदारी निभाई और टीम को 27 साल बाद फ़ाइनल में पहुंचाया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय की शतकीय साझेदारी

स्टार्क ने तोड़ा मैग्रा का रिकॉर्ड

इंग्लैंड का पहला विकेट 18वें ओवर की दूसरी गेंद पर जॉनी बेयरस्टो (34) के रूप में गिरा जो मिशेल स्टार्क की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए. इंग्लैंड ने रिव्यू लिया. इसमें फील्ड अंपायर का फ़ैसला सही दिखा और बेयरेस्टो को पवेलियन लौटना पड़ा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption स्टार्क ने रचा इतिहास, ग्लेन मैग्रा का रिकॉर्ड तोड़ा

इसके साथ ही मिशेल स्टार्क ने 12 साल पुराना ग्लेन मैग्रा का एक वर्ल्ड कप में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड तोड़ दिया.

यह स्टार्क का इस वर्ल्ड कप में 27वां विकेट था. मैग्रा ने 2007 में 26 विकेट लिये थे.

पहला विकेट गिरने के कुछ ही देर बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज़ जेसन रॉय (85) भी विकेट के पीछे लपके गये. हालांकि टीवी रिप्ले के अल्ट्राएज़ में यह साफ़ दिखा कि अंपायर का निर्णय ग़लत था क्योंकि गेंद उनके बल्ले से बिना छुए विकेट के पीछे गयी थी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption अल्ट्राएज़ में साफ़ दिखा कि गेंद जेसन रॉय के बल्ले से नहीं लगी थी

इंग्लैंड के पास रिव्यू नहीं बचा था लिहाजा रॉय को नाखुशी जताते हुए पवेलियन लौटना पड़ा.

हालांकि इसके बाद इंग्लैंड का कोई विकेट नहीं गिरा और कप्तान इयोन मोर्गन और जो रूट ने टीम को जीत दिला दी.

मोर्गन ने नाबाद 45 जबकि रूट ने नाबाद 49 रन बनाए.

तीन विकेट गिरने के साथ शुरू हुई ऑस्ट्रेलियाई पारी

इससे पहले टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम के शुरुआती तीन बल्लेबाज़ पहले 7 ओवर में ही पवेलियन लौट गये. मैच के दूसरे ओवर की पहली गेंद पर कप्तान फिंच बिना खाता खोले ही जोफ्रा आर्चर की गेंद पर आउट हुए.

तो टूर्नामेंट में टीम की तरफ से सर्वाधिक स्कोर बनाने वाले वार्नर भी केवल 9 रन के निजी स्कोर पर पवेलियन लौट गये. उन्हें वोक्स ने बैरिस्टो के हाथों कैच आउट कराया. इसके बाद वोक्स ने पीटर हैंड्सकॉम्ब को बोल्ड कर ऑस्ट्रेलिया को संकट में डाल दिया.

यहां से स्टीव स्मिथ ने एक छोर संभाल लिया और अर्धशतकीय पारी से ऑस्ट्रेलिया की स्थिति सुधारी और रन आउट होने से पहले तक 85 रनों की बेशकीमती पारी खेली. सबसे पहले उन्होंने विकेटकीपर एलेक्स कैरी के साथ चौथे विकेट के लिए 103 रनों की साझेदारी निभाई.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

राशिद ने एक ही ओवर में दो विकेट झटके

इन दोनों के बीच साझेदारी तब टूटी जब मैच के 28वें ओवर में आदिल राशिद ने एलेक्स कैरी (46) को आउट किया.

इसके बाद इसी ओवर की अंतिम गेंद पर नए बल्लेबाज़ मार्कस स्टोइनिस भी बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गये.

इसी दौरान दूसरी छोर से क्रीज पर टिके हुए स्टीव स्मिथ ने अपना अर्धशतक पूरा किया. यह वनडे क्रिकेट में स्मिथ का 23वां और इस वर्ल्ड कप में चौथा अर्धशतक है.

छठे विकेट के लिए स्मिथ ने ग्लेन मैक्सवेल के साथ 39 रन जोड़े लेकिन 35वें ओवर में जोफ्रा आर्चर ने यह जोड़ी तोड़ दी. उनकी गेंद पर ग्लेन मैक्सवेल 22 रन बना कर आउट हो गये.

इसके बाद आए पैट कमिंस 38वें ओवर में आदिल राशिद की स्पिन पर चकमा खा गये और इंग्लिश कप्तान जो रूट को कैच दे बैठे. कमिंस ने 6 रन बनाए.

यहां से आगे स्मिथ ने मिशेल स्टार्क के साथ तेज़ी से रन जोड़ना शुरू किया. दोनों ने आठवें विकेट के लिए 51 रन जुटाए.

फिर 48वें ओवर में स्मिथ रन आउट हुए और अगली ही गेंद पर मिशेल स्टार्क भी आउट हो गये.

ऑस्ट्रेलियाई टीम 49 ओवर में 223 रन बना कर ऑल आउट हो गयी.

ऑस्ट्रेलियाई पारी के दौरान राशिद ने तीन, जोफ्रा आर्चर और वोक्स ने दो-दो और वुड ने एक विकेट लिया.

इससे पहले बुधवार को पहले सेमीफ़ाइनल में भारत को हरा कर न्यूज़ीलैंड लगातार दूसरी बार फ़ाइनल में पहुंच गया है.

इंग्लैंड अब तक नहीं बना चैंपियन

इंग्लैंड 1979, 1987 और 1992 में फ़ाइनल में पहुंच चुका है लेकिन हर बार उसे उप विजेता बनकर ही संतोष करना पड़ा है.

रिकॉर्ड बुक

  • यह पहली बार है जब पांच बार का चैंपियन ऑस्ट्रेलिया वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइनल में हारा है. ऑस्ट्रेलिया 1975, 1987, 1996, 1999, 2003, 2007 और 2015 के फ़ाइनल में पहुंच चुका है, जिसमें से वह 1975 और 1996 में ही उपविजेता रहा, बाकी हर बार उसने ख़िताब पर कब्जा जमाया है.
इमेज कॉपीरइट Getty Images
  • ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज़ डेविड वार्नर इस मैच में 9 रन बनाए. वो महज 1 रन से इस वर्ल्ड कप में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज़ बनने से चूक गये. इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक रोहित शर्मा ने 648 रन बनाए हैं.
  • जॉनी बेयरिस्टो के विकेट के साथ ही मिशेल स्टार्क किसी भी एक वर्ल्ड कप में सबसे अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. उन्होंने ग्लेन मैग्रा का रिकॉर्ड तोड़ा. इस वर्ल्ड कप के 10 मैचों में स्टार्क 27 विकेट ले चुके हैं.
  • इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज़ जॉनी बेयरस्टो ने 34 रनों की पारी खेली. इसके साथ ही इस वर्ल्ड कप में उनके कुल रनों का योग 496 पर पहुंच गया है.
  • जो रूट ने 49 रनों की पारी खेली. अब इस वर्ल्ड कप में उनके 549 रन हो गये हैं. फ़ाइनल मुक़ाबले में अगर उनके बल्ले से शतक निकला तो वो इस वर्ल्ड कप में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज़ बन सकते हैं.
  • 18 रन से हार कर वर्ल्ड कप से बाहर हुआ भारत
  • विराट कोहली ने हार के बाद क्या कहा?

टीमें

ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), डेविड वार्नर, पीटर हैंड्सकॉम्ब, स्टीव स्मिथ, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), मार्कस स्टोइनिस, ग्लैन मैक्सवेल, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, जेसन बेहरनडार्फ और नाथन लॉयन.

इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), जेसन रॉय, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट, बेन स्टोक्स, जोस बटलर (विकेटकीपर), क्रिस वोक्स, लियाम प्लंकट, आदिल राशिद, जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार