सरीना विलियम्स को हराकर बियांका एंड्रीस्कू ने जीता यूएस ओपन

  • 8 सितंबर 2019
बियांका वैनेसा एंड्रीस्कू इमेज कॉपीरइट Getty Images

कनाडाई खिलाड़ी बियांका वैनेसा एंड्रीस्कू ने यूएस ओपन के फ़ाइनल में सरीना विलियम्स को हरा दिया है.

यह 19 साल की बियांका का पहला ग्रैंड स्लैम टाइटल है. फ़ाइनल में उन्होंने अमरीका की 37 वर्षीया सरीना को 6-3, 7-5 से हराकर यह उपलब्धि हासिल की.

15वीं वरीयता वालीं बियांका पहली बार यूएस ओपन खेल रही थीं. पिछले साल वह क्वॉलिफ़ाइंग के पहले दौर में ही बाहर हो गई थीं.

मैच जीतने के बाद बियांका ने कहा, "यह साल ऐसा रहा है मानो कोई सपना पूरा हो गया हो."

"मैं बहुत ख़ुश हूं. इस पल के लिए मैंने बहुत मेहनत की है. इस स्तर पर आकर महान खिलाड़ी सरीना के ख़िलाफ़ खेलना ग़ज़ब की बात है."

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption पिछले साल बियांका क्वॉलिफ़ाइंग राउंड में बाहर हो गई थीं

कई उपलब्धियां एकसाथ

बियांका का खेल पूरे टूर्नामेंट में आत्मविश्वास भरा रहा और इसी कारण वह एक स्टार बनकर उभरीं. बियांका ग्रैंड स्लैम जीतने वालीं पहली कनाडाई खिलाड़ी बन गई हैं.15 साल बाद वह मौका आया है जब किसी नई टीनेजर खिलाड़ी ने पहला ग्रैंड स्लैम अपने नाम किया. बियांका से पहले साल 2004 में रूस की मारिया शारापोवा ने 17 साल की उम्र में विम्बलडन जीता था.इसके बाद मारिया शारापोवा ने 2006 में 19 साल की उम्र में यूएस ओपन सिंगल्स टाइटल अपने नाम किया था. अब बियांका ने भी 19 साल की उम्र में यह उपलब्धि हासिल की है.

इमेज कॉपीरइट AFP

क्या बोलीं सरीना

अब तक 23 सिंगल्स ग्रैंड स्लैम जीत चुकीं सरीना विलियम्स की बड़े फ़ाइनल्स में यह लगातार चौथी हार है.

मैच के बाद उन्होंने प्रशंसकों का आभार प्रकट किया और बियांका के खेल की तारीफ़ की

इमेज कॉपीरइट AFP

सरीना ने कहा, "मैं मुक़ाबले में टिकी रहना चाह रही थी और इस बीच प्रशंसकों ने मेरा मनोबल बढ़ाना शुरू कर दिया. इससे मुझे बेहतर खेलने में और टक्कर देने में मदद मिली. इसके लिए मैं आपकी शुक्रगुज़ार हूं. बियांका ने कमाल का खेल दिखाया. बहुत बधाई. मुझे आप पर गर्व है और मैं बहुत ख़ुश हूं."

20 साल पहले साल 1999 में सरीना विलिम्यस ने यूएस ओपन में उस समय की नंबर 1 खिलाड़ी मार्टिना हिंगिस को हराकर पहला बड़ा ख़िताब अपने नाम किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार