टोक्यो ओलंपिक उद्घाटन समारोह की रंगारंग तस्वीरें देखिए

टोक्यो ओलंपिक खेलों का आयोजन कोरोना महामारी की वजह से खाली स्टेडियम में हो रहा है. एक हज़ार से भी कम दर्शकों को समारोह में जाने की इजाज़त दी गई है. देखिए उद्घाटन समारोह की कुछ अहम तस्वीरें.

टोक्यो ओलंपिक 2020

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

टोक्यो ओलंपिक का आधिकारिक शुभारंभ हो गया है. कोरोना महामारी की वजह से खाली स्टेडियम में आयोजन किया जा रहा है. एक हज़ार से भी कम दर्शकों को समारोह में जाने की इजाज़त दी गई है. जापान के सम्राट नरुहितो खेल का शुभारंभ किया. जापान के सम्राट समेत मात्र 15 अंतरराष्ट्रीय नेता समारोह में शरीक हो हुए हैं.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

टोक्यो ओलंपिक में भारतीय दल की अगुआई बॉक्सर एमसी मेरी कॉम और हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने की.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

टोक्यो ओलंपिक में पाकिस्तान की टीम

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

प्रधानमंत्री मोदी ने टीवी पर ओलंपिक उद्घाटन समारोह की झलक देखी और भारतीय दल के प्रवेश पर खड़े होकर दल का उत्साह बढ़ाया. उन्होंने एक तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा है- "आइए हम सब भारत का उत्साह बढ़ाएँ. मैंने ओपनिंग समारोह की झलक देखी. हमारी अपनी टीम को बहुत शुभकामनाएँ."

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

भारत ने टोक्यो ओलंपिक के 228 सदस्यों का एक बड़ा दल भेजा है. 2016 के रियो ओलंपिक में भारत ने 117 एथलीट भेजे थे. इस बार ओलंपिक में भारत 18 खेलों में हिस्सा लेगा. एथलेटिक्स स्पर्धाएँ 30 जुलाई से 8 अगस्त तक होंगी.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

2020 के ओलंपिक खेलों के दौरान रिकॉर्ड 43 प्रतियोगिताएँ और 339 कार्यक्रम होंगे, जो जापान में 42 जगहों पर आयोजित होंगे.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

माना जा रहा है कि टोक्यो ओलंपिक का पहला पदक 24 जुलाई को दिया जाएगा.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

23 जुलाई से शुरू होकर आठ अगस्त तक खेल की दुनिया का रोमांच अपने चरम पर होगा. 'सॉफ़्टबॉल' खेल प्रतियोगिता उद्घाटन समारोह इससे दो दिन पहले यानी 21 जुलाई को ही फु़कुशिमा में शुरू हो चुका था.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

जापान को 2020 में कोरोना वायरस महामारी के चलते इस आयोजन को लेकर अपनी तैयारियों को स्थगित करनी पड़ी थीं और 2021 में इसके आयोजन पर आशंकाओं के बादल छा गए थे. लेकिन जापान सरकार और अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने तमाम मुद्दों पर विचार करने के बाद इसके आयोजन को हरी झडी दी.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

जापान पहले भी तीन बार ओलंपिक का आयोजिन कर चुका है - 1964, 1972 और 1988 में.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

टोक्यो में हो रहे ओलंपिक खेलों के शुभंकर को 'मिराइतोवा' और 'सोमाइटी' नाम दिया गया है. इसे ख़ास जापानी इंडिगो ब्लू रंग का पैटर्न दिया गया है. यह जापान की सांस्कृतिक परंपरा और आधुनिकता दोनों का प्रतिनिधित्व करते हैं. 'मिराइतोवा' जापानी कहावत से प्रेरित है.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

ग्रीस में प्राचीन ओलंपिया के पवित्र स्थल पर हेरा के मंदिर में बीते वर्ष 12 मार्च को टोक्यो ओलंपिक की मशाल जलाई गई थी. इसके बाद पैनाथेनिक स्टेडियम में एक समारोह के दौरान मशाल को जापान को सौंप दिया गया.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

फिर टोक्यो ओलंपिक की मशाल रिले जापान में 25 मार्च से शुरू हुई और 23 जुलाई को खेलों के महाकुंभ के आगाज के साथ ख़त्म हुई.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

इस बार 5 नए खेल ओलंपिक में जोड़े गए हैं- सर्फ़िंग, स्केटबोर्डिंग, स्पोर्ट्स क्लाइंबिंग, कराटे और बेसबॉल. यही नहीं, बेसबॉल (पुरुष) और सॉफ्टबॉल (महिला) की ओलंपिक में वापसी हो रही है.