नाइट राइडर्स ने बुकनन को हटाया

इंडियन प्रीमियर लीग में कोलकाता नाइट राइडर्स टीम के कोच जॉन बुकनन की पद से छुट्टी कर दी गई है.

Image caption नाइट राइडर्स का प्रदर्शन अच्छा नहीं चल रहा था

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कोच बुकनन इस महीने के अंत में इंग्लैंड की अंडर-19 टीम को कुछ समय के लिए प्रशिक्षित करने वाले हैं मगर उससे पहले ही ये घोषणा हो गई है.

नाइट राइडर्स की टीम इस बार के आईपीएल में अंतिम स्थान पर रही थी. दक्षिण अफ़्रीका में हुए मुक़ाबलों में टीम 14 में से 10 मैच हार गई थी.

इसके बाद ही कोलकाता की टीम ने उन्हें हटाने का फ़ैसला किया.

शाहरुख़ ख़ान के अलावा टीम के साथी मालिक जय मेहता ने कहा, "वह जो करना चाहते थे वह हासिल नहीं कर सके. नाइट राइडर्स के लिए बुकनन की अपनी एक सोच थी. इस टीम के लिए जो नतीजे आने चाहिए थे दुर्भाग्यवश वह नहीं आ सके."

इस साल आईपीएल में उन्होंने कुछ ऐसे फ़ैसले भी किए जिसको लेकर उनकी ख़ासी आलोचना हुई.

उन्होंने शुरू में कहा कि वह इस साल आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए एक से ज़्यादा कप्तान रखना चाहते हैं.

आलोचना

टीम के मालिक शाहरुख़ ख़ान ने तो इसका समर्थन किया मगर पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर के अलावा नाइट राइडर्स के लिए पिछले साल कप्तान रहे सौरभ गांगुली ने भी उनके इस फ़ैसले का विरोध किया.

इसके बाद गांगुली की जगह न्यूज़ीलैंड के ब्रेंडन मैक्कलम को इस बार टीम की कमान सौंपी गई. फिर अंत तक मैक्कलम ही कप्तान रहे और एक से ज़्यादा कप्तानों वाली बात बीच में ही कहीं गुम हो गई.

इसके अलावा बुकनन आगामी ऐशेज़ शृंखला से पहले इंग्लैंड टीम को कुछ समय के लिए कोच करने वाले हैं.

इसे लेकर ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर शेन वॉर्न ने उनकी आलोचना करते हुए कहा था कि ये एक बहुत अच्छा क़दम है क्योंकि इसका मतलब होगा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम के पास जीत का ज़्यादा मौक़ा होगा.

वॉर्न ने इस बारे में कहा, "उम्मीद है कि वह अपना काम जारी रखेंगे और चीज़ों को ज़रूरत से ज़्यादा मुश्किल करते रहेंगे."

बुकनन आठ साल तक ऑस्ट्रेलियाई कोच रहे जिस बीच ऑस्ट्रेलिया ने लगातार रिकॉर्ड 16 टेस्ट मैच जीते और 2003 और 2007 का विश्व कप भी अपने नाम किया.

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है