भारत ने वेस्ट इंडीज़ को हराया

  • 27 जून 2009
युवराज सिंह
Image caption युवराज सिंह को उनके शानदार खेल पर मैन ऑफ़ द मैच दिया गया

जमैका में भारत और वेस्ट इंडीज़ के बीच खेले गए पहले वनडे मैच में भारत ने वेस्ट इंडीज़ को 20 रनों से हरा दिया है. भारत के 339 के जवाब में वेस्ट इंडीज़ की टीम 48.1 ओवर में 319 रन बनाकर ऑल आउट हो गई.

इससे पहले शानदार बल्लेबाज़ी का प्रदर्शन करते हुए भारत ने वेस्ट इंडीज़ के सामने जीत के लिए 340 का लक्ष्य रखा था. युवराज ने शानदार पारी खेलते हुए दस चौकों और सात छक्कों की मदद से 131 रन बनाए.

वेस्ट इंडीज़ की पारी

वेस्ट इंडीज़ की शुरुआत पुख़्ता लेकिन धीमी रही. पहला विकेट गेल के रुप में गिरा जब उनका व्यक्तिगत स्कोर 37 रन था. उन्हें नेहरा की गेंद पर हरभजन ने कैच किया जब टीम का स्कोर 65 रन था.

वेस्ट इंडीज़ का दूसरा विकेट मॉर्टन के रूप में गिरा जब उनका स्कोर था 42 रन और टीम का स्कोर था सौ रन. उन्हें पठान की गेंद पर धोनी ने कैच किया. इसके बाद सरवन 45 रन बनाकर रन आउट हुए और ये विकेट वेस्ट इंडीज़ के 151 के स्कोर पर गिरा. डीजे ब्रावो मात्र आठ रन ही बना पाए और वेस्ट इंडीज़ का चौथा विकेट 188 रनों पर गिरा. उन्हें इशांत शर्मा की गेंद पर आरजी शर्मा ने कैच किया. चंद्रपॉल पाँचवें विकेट के रूप में आउट हुए और उन्होंने वेस्ट इंडीज़ के सर्वाधिक 63 रन बनाए. उनका कैच जडेजा ने पठान की गेंद पर लपका.

डीएम ब्रावो 19 रन बना पाए और उन्हें हरभजन ने अपनी गेंद पर आरपी सिंह के हाथों कैच कराया. टेलर भी 21 रन बनाकर पठान की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए. वेस्ट इंडीज़ का आठवाँ विकेट बर्नार्ड के रूप में गिरा और उन्होंने 19 रन बनाए. उस समय वेस्ट इंडीज़ का स्कोर 294 रन था. उसके बाद पेविलियन जाने वाले खिलाड़ी थे बेन जिन्होंने सात रन बनाए और जिन्हें आरपी सिंह ने बोल्ड आउट किया. उस समय वेस्ट इंडीज़ का स्कोर था 318 रन. वेस्ट इंडीज़ का आख़िरी विकेट रामदिन के रूप में गिरा जिन्होंने 29 रन बनाए और नेहरा की गेद पर हरभजन ने उनका कैच लपका.

टॉस जीता पर बुरी शुरुआत

Image caption भारत श्रृंखला में पहला मैच जीत कर 1-0 से आगे है

इससे पहले भारत ने 50 ओवर में छह विकेट के नुकसान पर 339 बनाए थे जिसमें युवराज ने शानदार पारी खेलते हुए दस चौकों और सात छक्कों की मदद से 131 रन बनाए. भारत के लिए कार्तिक ने 67, धोनी ने 41 और पठान ने 40 रन बनाए. भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी शुरु की लेकिन कुछ ही देर में उसके दो विकेट गिर गए. गंभीर ने 13 रन बनाए और टेलर की गेंद पर ब्रावो ने उन्हें कैच आउट किया. उस समय टीम का स्कोर 25 रन था. उसके बाद जब रोहित शर्मा का स्कोर चार था तब उन्हें बेकर की गेंद पर ब्रावो ने ही कैच किया. उस समय टीम का स्कोर 32 रन था. इसके बाद कार्तिक और युवराज सिंह ने पारी को संभाला और तीसरे विकेट के लिए 135 रन बनाए. कार्तिक 67 के स्कोर पर थे जब बर्नार्ड की गेंद पर रामदिन ने उनका कैच लपका. उस समय भारत का स्कोर 29वें ओवर में 167 तक पहुँच गया था. इसके बाद युवराज के रूप में चौथा विकेट ब्रावो को मिला. उन्होंने युवराज को रामदिन के हाथों कैच कराया जब टीम का स्कोर 253 था. इसके बाद जडेजा कुछ ख़ास नहीं कर पाए और वे शून्य पर ही थे जब ब्रावो की ही गेंद पर रामदिन ने उनका कैच लिया. धोनी 41 रन बनाकर रन आउट हुए जबकि यूसुफ़ पठान ने 38 गेंदों में 40 रन बनाए और नाबाद रहे. उनके साथ हरभजन भी 21 रन बनाकर अंत तक आउट नहीं हुए. ये दोनों देशों के बीच खेली जाने वाली चार वनडे मैचों की श्रंखला का पहला मैच है. भारत के चार अहम चेहरे टीम से बाहर हैं - सुरेश रैना, सचिन तेंदुलकर, ज़हीर ख़ान और वीरेंदर सहवाग या तो टीम में लिए नहीं गए हैं या फिर इस मैच में खेलने के लिए फ़िट नहीं हैं. भारत की टीम- कार्तिक, गंभीर, धोनी, युवराज, आर शर्मा, पठान, जडेजा, हरभजन सिंह, ईशांत शर्मा, नेहरा, आरपी सिंह वेस्ट इंडीज़ की टीम- गेल, मॉर्टन, सरवन, चंद्रपॉल, डीजे ब्रावो, ब्रावो, रामदिन, टेलर, बर्नार्ड, बेन, बेकर

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार