भारत में खेले जाएंगे 29 मैच

आईसीसी ने 2011 के विश्वकप क्रिकेट का कार्यक्रम जारी करते हुए घोषणा की है कि विश्वकप के 29 मैच भारत में खेले जाएंगे.

Image caption भारत में फ़ाइनल भी खेला जाएगा

साथ ही आईसीसी ने विश्वकप आयोजन समिति का सचिवालय भी भारत क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के मुंबई स्थित कार्यालय में स्थानांतरित कर दिया है.

भारत में ही विश्वकप का फ़ाइनल मुक़ाबला भी होगा. देशभर में अलग अलग आठ जगहों पर इन मैचों का आयोजन किया जाएगा.

जानकारों के मुताबिक दक्षिण एशिया में भारत की स्थिति को बाकी देशों की तुलना में ज़्यादा बेहतर और सुरक्षित मानते हुए ऐसा फ़ैसला लिया गया है.

पहले आईसीसी का कार्यक्रम भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका और बांग्लादेश में विश्वकप आयोजित करने का था पर सुरक्षा कारणों से पाकिस्तान में प्रस्तावित सभी 16 मैचों का आयोजन रद्द कर दिया गया और उन्हें बाकी देशों में ही संपन्न कराने का फ़ैसला लिया गया है.

आईसीसी यह भी कह चुका है कि 2011 तक विश्वकप ही नहीं, बल्कि किसी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच का आयोजन पाकिस्तान में नहीं किया जाएगा. ऐसा पिछले दिनों श्रीलंका टीम के पाकिस्तान दौरे के दौरान उनपर हुए हमले के बाद तय किया गया था.

भूमिका

हालांकि यह तो पहले से स्पष्ट था कि मुख्य मेज़बान की भूमिका भारत को ही तय करनी है पर अभी तक कार्यक्रम को अंतिम रूप नहीं दिया जा सका था.

हालांकि विश्वकप की शुरुआत होगी बांग्लादेश में. वहाँ 18 फरवरी, 2011 को उदघाटन समारोह आयोजित किया जाएगा और 19 तारीख को पहला मैच खेला जाएगा.

पर इसके बाद मैच तीन देशों में अलग-अलग जगहों पर खेले जाने हैं. इनमें से 29 मैच भारत में, 12 मैच श्रीलंका में और आठ मैच बांग्लादेश में खेले जाएंगे.

पाकिस्तान सुरक्षा कारणों से इस सूची से पूरी तरह से बाहर हो चुका है. श्रीलंका में तीन अलग अलग स्थानों पर और बांग्लादेश में दो जगहों पर इन मैचों का आयोजन किया जाएगा.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल की ओर से बताया गया कि दो क्वार्टर फ़ाइनल बांग्लादेश में होंगे जबकि एक-एक क्वार्टर फ़ाइनल भारत और श्रीलंका में होगा.

इसके अलावा दो सेमीफ़ाइनल मुक़ाबलों में से एक भारत और एक श्रीलंका में खेला जाना है. विश्वकप फ़ाइनल की टीमें भारत की ज़मीन पर भिड़ेंगी.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है