बांग्लादेश की ऐतिहासिक जीत

महमूदुल्लाह
Image caption बांग्लादेश के गेंदबाज़ महमूदुल्लाह ने दूसरी पारी में पाँच विकेट लिए

बांग्लादेश ने वेस्ट इंडीज़ को 95 रनों से हराकर ऐतिहासिक जीत दर्ज की है. इस मैच में खिलाड़ियों के विद्रोह के कारण वेस्ट इंडीज़ ने अपनी बिल्कुल नई टीम उतारी थी.

बांग्लादेश ने साढ़े चार साल बाद ये जीत हासिल की है.

बांग्लादेश के स्पिन गेंदबाज़ों शकीबुल हसन और महमूदुल्ला ने अपने जाल में वेस्ट इंडीज़ के बल्लेबाज़ों को बांध लिया.

जश्न की घड़ी उस वक़्त सामने आई जब सेंट लूसिया में खेले गए इस मैच में वेस्ट इंडीज़ के आख़री बल्लेबाज़ टीनू बेस्ट को शकीब ने आउट कर दिया. जीत के लिए मेज़बान टीम को 277 रनों का लक्ष्य मिला था लेकिन उसके सारे बल्लेबाज़ 181 रनों पर ही आउट हो गए. बांग्लादेश की तरफ़ से महमूदुल्ला ने 51 रन देकर पाँच विकेट लिए जबकि वेस्ट इंडीज़ की ओर से डेविड बर्नार्ड ने नाबाद 52 रन बनाए.

इससे पहले बांग्लादेश ने ज़िम्बाब्वे के विरूद्ध चटगांव में एक मात्र जीत हासिल की थी और वह भी 60 मैच खेलने के बाद.

ऐतिहासिक

बांग्लादेश ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए अपनी पहली पारी में 238 रन बनाए जिसमें सबसे ज़्यादा 39 रन कप्तान मशरफ़े मुर्तज़ा ने बनाए.

वेस्ट इंडीज़ की नई टीम ने जवाब में 307 रन बनाए. सलामी बल्लेबाज़ ओ फ़िलिप्स ने 94 रनों की पारी खेली और वेस्ट इंडीज़ को बढ़त दिला दी. लेकिन बांग्लादेश के तमीम इक़बाल ने दूसरी पारी में शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए अपना पहला शतक जड़ा और 128 रन बनाए.

बांग्लादेश के आख़िरी पाँच विकेट सिर्फ़ 23 रनों पर गिर गए. डैरेन सैमी ने 70 रन देकर पाँच विकेट चटकाए. मशरफ़े मुर्तज़ा ने कहा कि सुबह हम लोगों का जल्दी आउट हो जाना एक तरह का वरदान ही था जिसके कारण हम लोगों को समय मिल गया. मुर्तज़ा पहली बार बांग्लादेश की कप्तानी कर रहे हैं. घुटने में चोट लग जाने की वजह से जीत के पल में उपकप्तान शकीबुल हसन उनकी जगह कप्तानी कर रहे थे. स्कोर बांग्लादेश 238 और 345 वेस्ट इंडीज़ 307 और 181

संबंधित समाचार