ऑस्ट्रेलिया ने हिसाब बराबर किया

  • 9 अगस्त 2009

ऑस्ट्रेलिया ने हेडिंग्ले टेस्ट में मेज़बान इंग्लैंड को एक पारी और 80 रन के बड़े अंतर से हराकर ऐशेज़ सिरीज़ बराबर कर ली है. अभी एक टेस्ट मैच होना बाक़ी है.

Image caption मिचेल जॉनसन ने दूसरी पारी में पाँच विकेट लिए

इंग्लैंड ने दूसरे टेस्ट में जीत हासिल की थी. इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में सिर्फ़ 102 रन बनाए थे. जबकि ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 445 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था.

इस तरह पहली पारी के आधार पर उसे 343 रनों की बढ़त हासिल हुई थी. इंग्लैंड की टीम इस दबाव को झेल नहीं पाई और दूसरी पारी में 263 रन बनाकर आउट हो गई.

इस तरह टेस्ट मैच के तीसरे दिन ही ऑस्ट्रेलिया ने शानदार जीत हासिल कर ली. दूसरे दिन का खेल ख़त्म होने तक इंग्लैंड ने अपनी दूसरी पारी में पाँच विकेट पर 82 रन बनाए थे.

इस तरह दूसरी पारी में इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया से 261 रन पीछे थी. जल्द ही इंग्लैंड ने अपना छठा विकेट भी गँवा दिया.

जेम्स एंडरसन चार रन बनाकर पवेलियन लौट गए और मैट प्रायर भी 22 रन ही बना पाए. लेकिन स्टुअर्ट ब्रॉड और ग्रैम स्वान ने ऑस्ट्रेलिया की जीत की राह में मुश्किलें खड़ी की.

सबसे बड़ी हार नहीं

ब्रॉड ने 10 चौके लगाए और 61 रन बनाकर आउट हुए. ग्रैम स्वान ने भी 62 रन बनाए. दोनों ने आठवें विकेट के लिए 108 रन जोड़े. एक समय समझा जा रहा था कि अपनी ज़मीन पर ये इंग्लैंड की सबसे बड़ी हार हो सकती है.

Image caption हिलफ़ेनॉस ने भी अच्छी गेंदबाज़ी की

अपनी धरती पर इंग्लैंड की सबसे बड़ी हार वर्ष 1973 में हुई थी, जब उनकी टीम लॉर्ड्स में वेस्टइंडीज़ के हाथों एक पारी और 226 रनों से हारी थी.

लेकिन हेडिंग्ले टेस्ट में ब्रॉड और स्वान ने ऐसा नहीं होने दिया. हालाँकि वे अपनी टीम को हार से भी नहीं बचा सके.

इंग्लैंड की पूरी टीम 263 रन बनाकर आउट हो गई. ऑस्ट्रेलिया की ओर से मिचेल जॉनसन ने 69 रन देकर पाँच विकेट लिए तो हिलफ़ेनॉस ने 60 रन पर चार विकेट चटकाए.

इंग्लैंड की टीम अपनी पहली पारी में सिर्फ़ 102 रन बनाकर आउट हो गई थी. जानकारों का मानना है कि पहले ही दिन इंग्लैंड की हार तय हो गई थी, क्योंकि ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में शानदार खेल दिखाया.

इंग्लैंड की पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया के पीटर सिडेल ने पाँच और स्टुअर्ट क्लार्क ने तीन विकेट लिए थे. जबकि इंग्लैंड की ओर से मैट प्रायर ने सर्वाधिक 37 रन बनाए थे.

ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 445 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था. ऑस्ट्रेलिया की ओर से मार्कस नॉर्थ ने सर्वाधिक 110 रन बनाए थे.

माइकल क्लार्क ने 93 और कप्तान रिकी पोंटिंग ने 78 रन बनाए थे. सलामी बल्लेबाज़ शेन वॉटसन ने 52 रनों का योगदान दिया.

पहली पारी में शतक लगाने वाले मार्कस नॉर्थ को मैन ऑफ़ द मैच घोषित किया गया. ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच ऐशेज़ सिरीज़ का पाँचवाँ और आख़िरी मैच 20 अगस्त से ओवल में खेला जाएगा.

संबंधित समाचार