इंग्लैंड की टीम प्रतियोगिता से हटी

चरमपंथी धमकी के कारण इंग्लैंड की टीम हैदराबाद में होने वाली वर्ल्ड बैडमिंटन चैम्पियनशिप से हट गई है.

Image caption आयोजन समिति ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है

सोमवार से शुरू हो रही इस प्रतियोगिता से इंग्लैंड ने अपनी आठ सदस्यीय टीम को हटाने का फ़ैसला किया है.

पाकिस्तान स्थित चरमपंथी संगठन लश्कर-ए-तैबा की ओर से धमकी की रिपोर्ट आने के कारण ऐसा हुआ है.

इंग्लैंड बैडमिंटन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एड्रियन क्रिस्टी ने एक बयान में कहा है कि ये काफ़ी कड़ा फ़ैसला था.

उन्होंने कहा, "ओलंपिक के बाद ये दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित प्रतियोगिता है. लेकिन हम अपने खिलाड़ियों, कोच और कर्मचारियों का जीवन ख़तरे में डालने के लिए तैयार नहीं हैं. हम ये मानते हैं कि प्रतियोगिता के दौरान माहौल काफ़ी अस्थिर होगा."

विचार

एड्रियन क्रिस्टी ने कहा कि टीम में ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाले खिलाड़ी नाथन रॉबर्टसन भी थे और सभी ने स्थानीय पुलिस अधिकारियों से मिली सूचनाओं पर सावधानीपूर्वक विचार किया.

उन्होंने बताया कि विदेश मंत्रालय और ब्रितानी उच्चायोग से सलाह लेने के बाद बैडमिंटन इंग्लैंड ने निष्कर्ष निकाला कि खिलाड़ियों की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता है.

बैडमिंटन इंग्लैंड के परफ़ॉरमेंस डायरेक्टर इयन मूस ने कहा, "ये काफ़ी निराशाजनक फ़ैसला है. ख़ासकर ऐसे समय जब हमने दोहा कैंप के दौरान अच्छी तैयारी कर ली थी. हमारे खिलाड़ियों पूरी तरह तैयार थे. लेकिन आख़िर में प्रदर्शन से भी अहम है खिलाड़ियों की सुरक्षा."

उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में न खेलने का फ़ैसला सामूहिक था और इस फ़ैसले को आयोजन समिति की कोशिशों के ख़िलाफ़ नहीं समझना चाहिए.

संबंधित समाचार