मोहम्मद आसिफ़ की टीम में वापसी

मोहम्मद आसिफ़
Image caption आसिफ़ पर एक साल का प्रतिबंध लगा है

पाकिस्तान ने एक साल के प्रतिबंध का सामना कर रहे गेंदबाज़ मोहम्मद आसिफ़ को दक्षिण अफ़्रीका में चैम्पियंस ट्रॉफ़ी के लिए टीम में शामिल किया है.

उन्हें पिछले साल इंडियन प्रीमियर लीग में प्रतिबंधित दवा के इस्तेमाल का दोषी पाया गया था.

उन पर लगा एक साल का प्रतिबंध 22 सितंबर को समाप्त हो रहा है और उसी दिन से चैम्पियंस ट्रॉफ़ी की शुरुआत हो रही है.

मुख्य चयनकर्ता इक़बाल क़ासिम ने इस बारे में कहा, "उन्होंने जो ग़लती की है वह उसकी सज़ा काट चुके हैं. हमें लगता है कि इतने बड़े टूर्नामेंट के लिए वह एक अहम खिलाड़ी होंगे."

पाकिस्तान उस टूर्नामेंट में ग्रुप ए में ऑस्ट्रेलिया, भारत और वेस्ट इंडीज़ के साथ है.

टीम को उम्मीद है कि इस साल की इंग्लैंड में ट्वेन्टी-20 का विश्व कप जीतने के बाद टीम अब चैम्पियंस ट्रॉफ़ी भी जीत सकेगी.

कई मामले

साथ ही मोहम्मद आसिफ़ को उम्मीद होगी कि नशीले पदार्थों से जुड़े विवादों के चलते सुर्ख़ियाँ बटोरने के बाद अब वह मैदान में ऐसा कुछ करिश्मा कर दिखाएँ कि उसकी वजह से सुर्ख़ियाँ बनें.

इससे पहले 2006 में भी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उन पर नशीली दवा के इस्तेमाल को लेकर प्रतिबंध लगाया था मगर उस समय वह ये कहते हुए उस फ़ैसले को चुनौती देने में सफल रहे थे कि उन्होंने जानबूझकर वो दवा नहीं ली थी.

पिछले साल आईपीएल में नशीली दवा लेने के अलावा उन पर दुबई हवाई अड्डे पर अफ़ीम के साथ गिरफ़्तार होने के बाद दस लाख रुपयों का जुर्माना किया गया था.

उस समय उन्होंने कहा था कि उन्हें नहीं पता था कि उनकी जड़ी-बूटी वाली दवा में अफ़ीम भी है मगर जब वह पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की अनुशासनिक मामलों की समिति के सामने पहुँचे तब उन्होंने ग़लती मान ली थी.

पाकिस्तान ने टीम में अब्दुल रज़्ज़ाक़ की जगह राणा नवेद-उल हसन को शामिल किया है और साथ ही 19 वर्षीय उमर अकमल को भी जगह मिली है.

पाकिस्तानी टीम-

यूनुस ख़ान (कप्तान), इमरान नज़ीर, मिसबाह-उल-हक़, उमर अकमल, शोएब मलिक, शाहिद आफ़रीदी, राणा नवेद-उल हसन, फ़वाद आलम, मोहम्मद यूसुफ़, कामरान अकमल, उमर गुल, मोहम्मद आमिर, मोहम्मद आसिफ़, राव इफ़्तिख़ार, सईद अजमल

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है