ऑस्ट्रेलिया का एशेज़ मुश्किल में

स्टुअर्ट ब्रॉड
Image caption तेज़ गेंदबाज़ स्टुअर्ट ब्रॉड ने पहली पारी में शानदार पाँच विकेट लिए

इंग्लैंड का दौरा कर रही ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए एशेज़ को अपने पास बचाए रखना कठिन हो सकता है.

ओवल में पाँचवें और अंतिम टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 546 रन का एक अत्यंत कठिन रख दिया है और अभी खेल के दो दिन बचे हैं.

इतने बड़े स्कोर तक पहुँच पाने के लिए ऑस्ट्रेलिया को दो-दो कीर्तिमान बनाने होंगे.

सबसे पहले तो आजतक कोई भी टीम इतने बड़े लक्ष्य का पीछा नहीं कर पाई है. चौथी पारी में सबसे बड़े लक्ष्य का रिकॉर्ड 418 रन का है जब 2003 में वेस्टइंडीज़ ने इस लक्ष्य तक पहुँचकर ऑस्ट्रेलिया को हराया था.

इसके अतिरिक्त ओवल के मैदान पर चौथी पारी के सबसे बड़े लक्ष्य को प्राप्त करने का रिकॉर्ड 263 रन का है. ये रिकॉर्ड भी 107 साल पुराना है जब 1902 में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को हराया था.

वर्तमान एशेज़ श्रृंखला में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया 1-1 से बराबरी पर चल रहे हैं. इंग्लैंड ने लॉर्ड्स में दूसरा टेस्ट मैच 115 रन से जीता था. बाद में लीड्स में चौथे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को एक पारी और 80 रन से हराकर सिरीज़ बराबरी पर ला दिया.

पिछली एशेज़ श्रृंखला 2006-07 में ऑस्ट्रेलिया में खेली गई थी जिसमें इंग्लैंड को ऑस्ट्रेलिया से 5-0 से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा था.

ओवल टेस्ट

Image caption जोनाथन ट्रॉट पहले ही टेस्ट मैच में शतक लगानेवाले इंग्लैंड के 18वें बल्लेबाज़ बने

ओवल टेस्ट में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी की और पहली पारी में 332 रन बनाए.

इसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम पहली पारी में केवल 160 रन बना सकी जिससे इंग्लैंड को 172 रन की बढ़त मिल गई.

दूसरी पारी में इंग्लैंड ने मैच के तीसरे दिन नौ विकेट पर 373 रन बनाकर पारी घोषित कर दी.

इसतरह ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 546 रन का लक्ष्य है. मैच के तीसरे दिन का खेल पूरा होने तक ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों ने बिना किसी नुक़सान के 80 रन बनाए थे.

इंग्लैंड की दूसरी पारी में अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे जोनाथन ट्रॉट ने शानदार शतक लगाया. उन्होंने 119 रन बनाए. ट्रॉट अपने पहले ही टेस्ट मैच में शतक लगानेवाले इंग्लैंड के 18वें क्रिकेटर हैं.

इंग्लैंड की तरफ़ से गेंदबाज़ी में तेज़ गेंदबाज़ स्टुअर्ट ब्रॉड और ऑफ़ स्पिनर ग्रेम स्वान ने पहली पारी में शानदार गेंदबाज़ी की.

ब्रॉड ने 37 रन देकर पाँच और स्वान ने 38 रन देकर चार ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों को पवेलियन पहुँचाया.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है