यूएस ओपन पर क्लाइस्टर्स का क़ब्ज़ा

क्लाइस्टर्स अपनी बेटी के साथ
Image caption क्लाइस्टर्स ने वर्ष 2005 में यूस ओपन का ख़िताब जीता था

बेल्ज़ियम की किम क्लाइस्टर्स ने यूएस ओपन के महिला वर्ग का ख़िताबी मुक़ाबला जीत लिया है.

रविवार को खेले गए फ़ाइनल मुक़ाबले में क्लाइस्टर्स ने डेनमार्क की कैरोलाइन वोज़िनयाकी को सीधे सेटों में 7-5, 6-3 से हराया.

1980 के बाद से वे पहली महिला हैं जिन्होंने माँ बनने के बाद कोई ग्रैंड स्लैम जीता हो. 1980 में इवोने गुलागांग कॉवली ने विबंलडन जीता था.

इससे पहले क्लाइस्टर्स ने वर्ष 2005 में यूएस ओपन का ख़िताब जीता था और इस तरह ये उनका दूसरा ग्रैंड स्लैम है.

विलियम्स बहनों को हराकर

क्लाइस्टर्स विलियम्स बहनों को पराजित करके फ़ाइनल मुक़ाबले में पहुँची थीं. शनिवार को खेले गए सेमी फ़ाइनल मुक़ाबले में क्लाइस्टर्स ने सरीना विलियम्स को पराजित किया था, जहाँ सरीना पेनाल्टी पाइंट से हारी थीं.

फ़ुट फॉल्ट के फ़ैसले पर नाराज़ होकर मैच रेफ़री को अपशब्द कहे जाने की वजह से सरीना पर पेनाल्टी पाइंट गँवाना पड़ा था.

क्लाइस्टर्स का जीतना किसी सपने से कम नहीं है क्योंकि वर्ष 2007 में उन्होंने संन्यास ले लिया था और दौरान उन्होंने एक बेटी को जन्म दिया, इस तरह वो 1980 के बाद से ऐसी पहली माँ है जिन्होंने ग्रैंड स्लैम ख़िताब जीता है.

इससे पहले 1980 में इवोने गुलागांग माँ बनने के बाद ग्रैंड स्लैम के ख़िताबी मुक़ाबले में पहुँची थीं और विबंलडन जीता था.

संन्यास के बाद 26 वर्षीया क्लाइस्टर्स पहली बार ग्रैंड स्लैम मुक़ाबले का हिस्सा बनीं जबकि सन्यास के बाद केवल तीन प्रतियोगिताओं में ही भाग लिया है.

ग़ौरतलब है कि क्लाइस्टर्स पहली महिला खिलाड़ी हैं जिन्हें किसी ग्रैंड स्लैम में वाइल्ड कार्ड से फ़ाइनल में प्रवेश मिला है.

क्लाइस्टर्स दो बार फ़्रेंच ओपन में और एक बार ऑस्ट्रेलियन ओपन की उप विजेता रही हैं.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है