फ़ॉर्मूला वन में फ़िक्सिंग?

फ़्लावियो ब्रियाटोरे
Image caption फ़्लावियो ब्रियाटोरे को पद छोड़ना पड़ा है

रेस फ़िक्सिंग के आरोपों के बीच रेनो की फ़ॉर्मूला वन टीम के प्रमुख फ़्लावियो ब्रियाटोरे ने इस्तीफ़ा दे दिया है. ब्रियाटोरे के अलावा इंजीनियरिंग डायरेक्टर पैट साइमंड्स ने भी टीम छोड़ दी है.

टीम के एक पूर्व ड्राइवर नेल्सन पिके जूनियर ने आरोप लगाया था कि टीम के बॉस ब्रियाटोरे ने उन्हें आदेश दिया था कि वे अपनी कार को टक्कर मार दें.

पिके जूनियर के मुताबिक़ पिछले साल सिंगापुर ग्रां प्री के दौरान उन्हें ऐसा करने को कहा गया था ताकि टीम के एक अन्य ड्राइवर फ़र्नांडो अलोंज़ो को फ़ायदा मिल सके.

बाद में फ़र्नांडो अलोंज़ो ने ही ये रेस जीती थी. नेल्सम पिके जूनियर ने ये गंभीर आरोप जुलाई के आख़िर में लगाए थे, जब उन्हें रेनो टीम से हटा दिया गया था.

आरोप

उस समय रेनो ने इस आरोप पर कड़ी प्रतिक्रिया दी थी. लेकिन अब उसने पिके जूनियर के आरोपों को चुनौती न देने का फ़ैसला किया है.

बीबीसी संवाददाता एलेक्स कैप्स्टिक का कहना है कि आरोपों को चुनौती न देने का फ़ैसला करके लगता है रेनो ने इस विवाद में अपनी कुछ भूमिका मान ली है.

ब्राज़ील के ड्राइवर पिके जूनियर ने अपने आरोप में यह भी कहा था कि कार टक्कर मारने के आदेश के पीछे रेस के नतीजे को प्रभावित करना था.

आरोपों को चुनौती न देने के फ़ैसले के बावजूद रेनो टीम को फ़ॉर्मूला वन रेसिंग की शीर्ष संस्था के सामने पेश होना होगा और फ़िक्सिंग के आरोपों का जवाब देना होगा.

संबंधित समाचार