भूपति-बोपन्ना की जोड़ी हारी

महेश भूपति
Image caption भूपति को चोट लगने के कारण रिटायर होना पड़ा

उम्मीद के ख़िलाफ़ महेश भूपति और रोहन बोपन्ना की जोड़ी दक्षिण अफ्रीका के वेस्ली मूडी और जेफ़ कोएत्ज़ी के ख़िलाफ़ अपना युगल मुकाबला हार गई.

भारत की जोड़ी 3-6, 6-3, 0-4 से पीछे चल रही थी तभी महेश भूपति की जांघ में चोट लग गई और उन्हें रिटायर होना पड़ा.

भारत अभी भी 2-1 की बढ़त बनाए हुए है.

कोएत्ज़ी का नेट पर खेल ख़ासा अच्छा था जबकि मूडी काफी तेज़ सर्विस कर रहे थे.

पहला सेट दक्षिण अफ्रीका के नाम रहा जबकि दूसरे सेट के दूसरे गेम में महेश ने मूडी के रिटर्न को कोएत्जी के सर के ऊपर से लॉब किया और फिर ज़बरदस्त विनर लगा कर सर्विस तोड़ दी.

तीसरे सेट में बोपन्ना से वाली मारने में गलती हुई और फिर भूपती ने डबल फ़ॉल्ट करके दक्षिण अफ्रीका को चार शून्य की बढ़त दे दी.

तीसरे सेट की शुरुआत से ही भूपति की दायीं जांघ में तकलीफ बढ़ गई थी और वह बिलकुल भी दौड़ नहीं पा रहे थे.

पिछले साल मई में भी भूपति को इसी तरह की चोट लगी थी.

भारतीय मैनेजर एसपी मिश्रा का कहना है की वह इस नतीजे से निराश ज़रूर हुए हैं लेकिन उनकी जीत की उम्मीद अभी भी क़ायम है.

रविवार को सोमदेव दक्षिण अफ्रीका के नम्बर एक खिलाडी रिक दे वोएस्ट से भिड़ेगें जबकि बोपन्ना का मुकाबला आइज़क मर्व से होगा.

अगर भारत पहला रिवर्स सिंगल जीत जाता है तो दूसरे सिंगल में यूकी भाम्बरी को उतारा जाएगा.

सोमदेव का कहना है की दबाव दक्षिण अफ्रीका पर होगा क्यूँकि अगले राउंड में पहुँचने के लिए उन्हें दोनों रिवर्स सिंगल जीतने होंगे.

अगर भारत ये मैच जीत जाता है तो 1998 के बाद पहली बार वह विश्व ग्रुप में पहुँचेगा.