भारत की उम्मीदों पर 'पानी फिरा'

  • 28 सितंबर 2009
Image caption खेल रद्द होने से भारत की उम्मीदें धूमिल हो गई हैं.

भारी बारिश के कारण भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सेंचुरियन में खेला जा रहा मैच रद्द कर दिया गया है.

इसके साथ ही चैम्पियंस ट्रॉफ़ी में भारत के आगे बढ़ने की उम्मीदें अब इसके ख़ुद के प्रदर्शन के अलावा अन्य टीमों के प्रदर्शन पर निर्भर करेगी.

मैच रद्द होने के कारण दोनों टीमों को एक-एक अंक मिले हैं.

अब भारत उसी स्थिति में सेमीफ़ाइनल में पहुँच सकता है जब पाकिस्तान अगले मुक़ाबले में ऑस्ट्रेलिया को हरा दे और भारत वेस्टइंडीज़ को इतने बड़े अंतर से मात दे कि उसका नेट रन रेट ऑस्ट्रेलिया से बेहतर हो जाए.

Image caption हसी ने भारतीय गेंदबाज़ों की जमकर धुनाई की.

जिस समय खेल रोका गया उस समय ऑस्ट्रेलिया एक बड़े स्कोर की ओर बढ़ रहा था. कंगारुओं ने 43 वें ओवर में चार विकेट खो कर 234 रन बना लिए थे और कैमरून व्हाइट फटाफट शैली में रन बटोर रहे थे.

इस मैच में भी टॉस ने भारतीय कप्तान का साथ नहीं दिया और रिकी पोंटिंग ने पहले बैटिंग का करने का फ़ैसला किया.

भारत को शुरुआती सफलता तीसरे ओवर में ही मिल गई जब आशीष नेहरा की गेंद पर शेन वाटसन बिना खाता खोले चलता बने लेकिन इसके बाद विरोधियों को दूसरा झटका देने के लिए धोनी को इंतज़ार करना पड़ा.

इस बीच नए खिलाड़ी पेन और कप्तान पोंटिंग के बीच 84 रनों की साझीदारी हुई जिसे अमित मिश्रा ने तोड़ा. उनकी गेंद पर पेन 56 रन बनाकर हरभजन के हाथों लपके गए.

रिकी पोंटिंग तेज़ी से अर्धशतक पूरा कर शतक की ओर बढ़ते दिखाई दे रहे थे, तभी सीमा रेखा से गंभीर के सीधे थ्रो ने गिल्लियां बिखेर दी. रन आउट होने से पहले पोंटिंग ने 88 गेंदों पर चार चौकों और एक छक्के की मदद से 65 रनों की ठोस पारी खेली.

लेकिन इस सफलता को भुना कर विपक्षी टीम पर दबाव बनाने में भारतीय टीम विफल साबित हुई और अगले खिलाड़ी माइक हसी ने भारतीय गेंदबाज़ों को औसत साबित करते हुए 65 गेंदों में 67 रन ठोक दिए. उनका विकेट भी अमित मिश्रा को ही मिला.

संबंधित समाचार