न्यूज़ीलैंड पहुँचा सेमीफ़ाइनल में

  • 30 सितंबर 2009
मार्टिन गुप्टिल
Image caption मार्टिन गुप्टिल ने न्यूज़ीलैंड के लिए शानदार 53 रन बनाए

चैम्पियंस ट्रॉफ़ी के ग्रुप बी मुक़ाबले में न्यूज़ीलैंड ने इंग्लैंड को हरा कर सेमीफ़ाइनल में जगह बना ली है. उधर न्यूज़ीलैंड की जीत का मतलब है कि एक समय मज़बूत माने जाने वाली श्रीलंका और मेज़बान दक्षिण अफ़्रीका की टीमें की आशाओं पर पानी फिर गया है.

न्यूज़ीलैंड ने इंग्लैंड को चार विकेट से हराया.

न्यूज़ीलैंड ने टॉस जीता और इंग्लैंड से पहले बल्लेबाज़ी करने को कहा.

इंग्लैंड की पारी

एंड्र्यू स्ट्रॉस ख़ाता खोले बिना ही मिल्स की गेंद पर मैक्कलम को कैच थमा बैठे और इंग्लैंड का पहला विकेट शून्य पर ही गिर गया. डेनली भी ज़्यादा देर टिक न पाए और उन्हें बॉंड ने बोल्ड किया जब उनका व्यक्तिगत स्कोर पाँच रन था और इंग्लैंड का स्कोर मात्र दस रनों पर ही पहुँचा था.

बॉंड का दूसरा शिकार बने शाह जिन्होंने मात्र तीन रन बनाए थे. उनका कैच भी मैक्कलम ने लपका और इंग्लैड ने केवल 13 रनों पर अपना तीसरा विकेट खो दिया. कॉलिंगवुड और मॉर्गन ने इसके बाद इंग्लैड की पारी को कुछ संभाला और उनकी साझेदारी 37 रन की रही.

मॉर्गन नौ रनों के स्कोर पर बटलर की गेंद पर टेयलर के हाथों कैच आउट हुए जब इंग्लैंड का स्कोर था 50 रन.

कॉलिंगवुड ने अपने 40 रनों में तीन छ्क्के ज़रूर लगाए लेकिन वे इलियट का शिकार बने और उन्हें टेयलर ने कैच आउट किया. जब कॉलिंगवुड़ के रूप में इंग्लैंड का पाँचवा विकेट गिरा तो टीम का स्कोर था 80 रन.

इसके बाद बोपारा ने इंग्लैंड की पारी को कुछ स्थिरता प्रदान करने की कोशिश की और 30 रन बनाए. लेकिन दूसरे छोर पर राईट चार रन बनाकर, ब्रॉड एक रन बनाकर, स्वॉन 11 रन बनाकर आउट होते गए. बोपारा को बॉंड ने 30 रनों पर एलबीडब्ल्यू आउट किया जब इंग्लैंड का स्कोर था 117 रन. साइडबॉटम ने बीस रन बनाए जबकि एंडरसन चार रन बनाकर नॉट आउट रहे.

इस तरह इंग्लैंड की पारी 146 रनों पर सिमट गई. इलियट ने चार, बॉंड ने तीन और मिल्स, बटलर, विटोरी ने एक-एक विकेट लिया.

न्यूज़ीलैंड की पारी

न्यूज़ीलैंड की पारी को मैक्कलम और मार्टिन गुप्टिल ने मज़बूत शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 84 रन जोड़े.

मैक्कलम ने 48 रन बनाए जिसमें तीन छक्के और चार चौके शामिल थे. उन्हें ब्रॉड की गेंद पर बोपारा ने कैच किया.

दूसरे छोर पर मार्टिन गुप्टिल ने बेहतरीन 53 रन बनाए जिसमें उन्होंने एक छक्का और सात चौके लगाए.

जब 113 रनों के स्कोर पर न्यूज़ीलैंड का दूसरा विकेट गिरा तो न्यूज़ीलैंड की पारी लड़खड़ाती नज़र आई.

ब्रॉड ने एक के बाद एक तीन और विकेट लिए. उन्होंने टेयलर को एक रन पर स्वॉन के हाथ कैच कराया, इलियट को तीन रनों पर मॉर्गन के हाथों कैच कराया और हॉपकिन्स को भी दो रनों के स्कोर पर मॉर्गन के हाथों कैच कराया. ब्रूम को 17 के स्कोर पर साईडबॉटम की गेंद पर मॉर्गन ने कैच आउट किया.

न्यूज़ीलैंड का तीसरा विकेट 114, चौथा 118 रन, पाँचवाँ विकेट 130 रनों पर और छठा विकेट 140 हनों पर गिरा.

विटोरी दस रन बनाकर और फ़्रैंक्लिन दो रनों पर नाबाद रहे. इस तरह 27.1 ओवर में न्यूज़ीलैंड ने 147 रन बनाकर इंग्लैंड को चार विकेट से हरा दिया.

संबंधित समाचार