भारत ने वेस्ट इंडीज़ को हराया

विराट कोहली
Image caption विराट कोहली ने शानदार बल्लेबाज़ी का प्रदर्शन करते हुए 79 रन बनाए और आउट नहीं हुए

चेम्पियंस ट्रॉफ़ी के ग्रुप ए में वेस्ट इंडीज़ को सात विकेट से हराने के बावजूद अंकों के आधार पर भारत प्रतियोगिता से बाहर हो गया है.

जोहानसबर्ग के न्यू वॉंन्डरर्स स्टेडियम में खेले गए मैच में भारत ने टॉस जीता और वेस्ट इंडीज़ को पहले बल्लेबाज़ी करने को कहा था.

हालाँकि की मैच के दौरान ही ये ख़बर आ गई थी कि पाकिस्तान ऑस्ट्रेलिया से हार गया है और इसी के साथ भारत के सेमीफ़ाइनल में पहुँचने की संभावनाएँ भी ख़त्म हो गई हैं.

वेस्ट इंडीज़ टिक नहीं पाया

वेस्ट इंडीज़ की पारी में विकेट काफ़ी जल्द गिरते गए और अधिकतर बल्लेबाज़ पी कुमार, नेहरा और हरभजन की गेंदबाज़ी के सामने टिक नहीं पाए. कुमार ने तीन, नेहरा ने तीन, हरभजन ने दो और धोनी और मिश्र ने एक-एक विकेट लिया.

पहला विकेट फ़्लेचर के रूप में शून्य पर ही गिरा जब कुमार की गेंद पर द्रविड़ ने फ़्लेचर को कैच किया. पॉवेल भी मात्र पाँच रन ही बना पाए और नेहरा की गेंद पर धोनी के हाथों कैच हुए. उस समय वेस्ट इंडीज़ का स्कोर था 26 रन.

इसके बाद स्मिथ 21 रन बनाकर नेहरा की गेंद पर धोनी के हाथों कैच हुए जबकि राइफ़र मात्र एक रन पर, कुमार की गेंद पर कार्तिक को कैच थमा बैठे.

बरनर्ड और सैमी ने पारी को कुछ संभालने की कोशिश की और बरनर्ड ने 22 और सैमी ने 23 रन बनाए. बरनर्ड अमित मिश्र की गेंद पर द्रविड़ के हाथों कैच आउट हुए जबकि सैमी को नेहरा की गेंद पर मिश्र ने कैच आउट किया. बरनर्ड छठे विकेट के रूप में आउट हुए जब टीम का स्कोर 89 रन था और सातवाँ विकेट सैमी के रूप में गिरा जब वेस्ट इंडीज़ का स्कोर था 99 रन.

क्रेंडन केवल पाँच रन बनाकर, रोश चार रन बनाकर और टोंगे पाँच रन बनाकर आउट हुए. मिलर 17 रन बनाकर नाबाद रहे और विस्ट इंडीज़ की टीम 129 रनों पर सिमट गई.

भारत की पारी

भारत को पहला झटका मात्र सात रनों पर लगा जब छह रनों के व्यक्तिगत स्कोर पर गंभीर को रोश ने बोल्ड आउट किया. भारत को दूसरा झटका भी जल्द ही लगा जब द्रविड़ चार रनों के व्यक्तिगत स्कोर पर रन आउट हो गए. भारत का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 12 रन हो गया.

कार्तिक ने सलामी बल्लेबाज़ के रूप में अच्छी भूमिका निभाई और चार चौकों की मदद से उन्होंने 34 रन बनाए. उन्होंने विराट कोहली के साथ तीसरे विकेट के लिए 92 रनों की साझेदारी निभाई. उन्हें टोंगे की गेंद पर डॉओलिन ने कैच आउट किया.

सबसे बेहतरीन बल्लेबाज़ी का नमूना विराट कोहली ने पेश किया जिन्होंने दो छक्कों और नौ चौकों की मदद से 79 रन बनाए और नॉट आउट रहे.

एएम नायर बिना खाता खोले नाबाद रहे. भारत ने मात्र 32.1 ओवर में ही तीन विकेट के नुकसान पर 130 रनों का लक्ष्य प्राप्त किया और सात विकेट से मैच जीत लिया.

संबंधित समाचार