ऑस्ट्रेलिया की टीम फ़ाइनल में

वॉटसन

ऑस्ट्रेलिया की टीम आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में पहुँच गई है. सेंचुरियन में हुए सेमी फ़ाइनल मैच में उसने इंग्लैंड को नौ विकेट से मात दी.

कप्तान रिकी पोंटिंग और शेन वॉटसन ने शानदार शतक लगाया और मौजूदा चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया ने 49 गेंद रहते ही आसान जीत दर्ज की.

जीत के लिए ऑस्ट्रेलिया को 258 रनों का लक्ष्य मिला था. शेन वॉटसन 136 और रिकी पोंटिंग 111 रन बनाकर नाबाद रहे. दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 252 रनों की नाबाद साझेदारी की.

रिकी पोंटिंग का वनडे में ये 28वाँ शतक था. जबकि शेन वॉटसन ने इस मैच में अपने वनडे करियर का तीसरा शतक लगाया.

ऑस्ट्रेलिया का एकमात्र विकेट टिम पेन के रूप में गिरा, जिन्होंने सिर्फ़ चार रन बनाए और उनका विकेट ओनियंस ने लिया.

नाबाद 136 रन बनाने वाले और दो विकेट लेने वाले ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉटसन को मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.

इंग्लैंड की पारी

इससे पहले इंग्लैंड की टीम 47.4 ओवर में 257 रन बनाकर आउट हो गई. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए इंग्लैंड ने ख़राब शुरुआत की.

Image caption टिम ब्रेंसन ने 80 रनों की अच्छी पारी खेली

एक समय उसके छह विकेट सिर्फ़ 101 रन पर ही गिर गए थे. लेकिन ल्यूक राइट और टिम ब्रेंसन ने सातवें विकेट के लिए 107 रनों की अहम साझेदारी की.

लेकिन इन दोनों के आउट होते ही एक बार फिर इंग्लैंड की पारी लड़खड़ाई और पूरी टीम 257 रन बनाकर आउट हो गई.

टिम ब्रेंसन ने सर्वाधिक 80 रन बनाए जबकि ल्यूक राइट ने 48 रनों का योगदान दिया. जो डेनली ने 36 और पॉल कॉलिंगवुड ने 34 रन बनाए.

ऑस्ट्रेलिया की ओर से पीटर सिडेल ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए. ब्रेट ली और शेन वॉटसन को दो-दो विकेट मिले. मिचेल जॉनसन के खाते में एक विकेट आया.

पाँच अक्तूबर को चैम्पियंस ट्रॉफ़ी का फ़ाइनल मैच होना है. तीन अक्तूबर को दूसरा सेमी फ़ाइनल पाकिस्तान और न्यूज़ीलैंड के बीच होना है.

इसके बाद ये फ़ैसला होगा कि फ़ाइनल में ऑस्ट्रेलिया की टीम से कौन भिड़ेगा.

संबंधित समाचार