'हूपर को वापस बुलाया जाए'

  • 15 अक्तूबर 2009
सुरेश कलमाडी
Image caption दिल्ली में राष्ट्रकुल खेलों की तैयारियों को लेकर कई देश शंका जाहिर कर चुके हैं.

भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष सुरेश कलमाडी ने कॉमनवेल्थ गेम्स फ़ेडेरेशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी माइकल हूपर को भारत से वापस बुलाए जाने की माँग की है.

दिल्ली में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कलमाडी ने कहा, "माइकल हूपर की मौजूदगी से कॉमनवेल्थ खेलों की आयोजन समिति को कोई लाभ नहीं हुआ है बल्कि उससे रुकावटें ही बढ़ी हैं."

उनका कहना था कि दो साल से हूपर दिल्ली में हैं और उनकी मौजूदगी बिल्कुल 'व्यर्थ' रही है. इसलिए आयोजन समिति को राष्ट्रमंडल खेल संघ को चिट्ठी लिखकर उन्हें भारत से तुरंत वापस बुलाए जाने के लिए कहना चाहिए जिससे काम काज सुचारू रूप से चल सके.

कलमाडी के मुताबिक़ संघ को हूपर की जगह किसी और को सलाहकार के तौर पर भेजना चाहिए.

इस बयान के बाद हूपर ने बीबीसी से बातचीत में इस बयान पर निराशा जताई है.

उन्होंने कहा, “मैं सभी आरोपों से इनकार करता हूँ. अगर मैं यहाँ नहीं होता तो दिल्ली में तैयारियाँ अभी और पीछे होतीं. मेरा काम ही है कि मैं तैयारियों से जुड़े सवाल उठाऊँ.उन्हें आगे बढ़ाने की कोशिश करूँ.”

हूपर का कहना था, “ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि कलमाड़ी और कुछ अन्य लोगों ने व्यक्तिगत तौर पर मेरे ख़िलाफ़ निशाना साधा है जबकि उन्हें सुचारु रूप से खेल आयोजित करने पर ध्यान देना चाहिए था.”

उनका कहना था कि वह फ़िलहाल कहीं नहीं जा रहे हैं क्योंकि उन्हें राष्ट्रमंडल खेल संघ का पूरा समर्थन हासिल है.

संबंधित समाचार