पॉन्टिंग ने माना भारत में होगी मुश्किल

रिकी पॉन्टिंग
Image caption पॉन्टिंग की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने पिछले दिनों चैंपियंस ट्रॉफ़ी जीती है

ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेट कप्तान रिकी पॉन्टिंग ने अपने खिलाड़ियों को चेतावनी दी है कि पिछले दिनों चैंपियंस ट्रॉफ़ी में भारत के बुरे प्रदर्शन के बावजूद उसे घरेलू मैदान पर हराना मुश्किल होगा.

सात एकदिवसीय मैचों की शृंखला के लिए भारत रवाना होने से पहले पॉन्टिंग ने कहा, "उन्हें भारत में हराना काफ़ी मुश्किल होगा- और हमेशा रहा है. वे विदेशी दौरे के मुक़ाबले घर में निश्चित ही बेहतर खेलते हैं."

वैसे ऑस्ट्रेलियाई टीम भी काफ़ी ऊँचे मनोबल के साथ भारत पहुँचेगी क्योंकि अभी उसने आसानी से चैंपियंस ट्रॉफ़ी जीती है और उसके पहले उसने इंग्लैंड को घरेलू मैदान पर ही 6-1 से बुरी तरह मात दी थी.

पॉन्टिंग इस बीच उप कप्तान माइकल क्लार्क की ग़ैर-मौजूदग़ी से कुछ चिंतित हैं. क्लार्क की पीठ में दर्द है और वह बाक़ी खिलाड़ियों के साथ भारत के लिए अभी रवाना नहीं हुए हैं.

खलेगी कमी

पॉन्टिंग ने इस बारे में कहा, "हमारी टीम के वह नंबर चार खिलाड़ी हैं, टीम के उप कप्तान भी हैं और एक ऐसे अनुभवी खिलाड़ी हैं जो भारतीय माहौल में अच्छा प्रदर्शन करते हैं."

साथ ही पॉन्टिंग की एक और चिंता कैलम फ़र्गुसन का टीम में नहीं होना है मगर कप्तान को लगता है कि टीम के मध्य क्रम के बाक़ी खिलाड़ी उनकी कमी महसूस नहीं होने देंगे.

फ़र्गुसन घुटने में चोट की वजह से एक साल के लिए टीम से बाहर हैं.

वैसे टीम के लिए राहत की बात ये है कि शॉन मार्श की वापस ही हो गई है. वह चोट की वजह से अप्रैल से टीम से बाहर थे.

शृंखला का पहला मैच 25 अक्तूबर को बड़ौदा में खेला जाएगा.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है