'दोषियों के विरुद्ध एफ़आईआर हो'

  • 24 नवंबर 2009
श्रीलंका में टीम पर हमला
Image caption दोषी अधिकारियों की बर्ख़ास्तगी की माँग की जा रही है

पाकिस्तानी संसद नेशनल असेंबली की खेलों की स्थाई समिति ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से कहा है कि वह इस साल मार्च में श्रीलंकाई टीम पर हमले के दौरान लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के विरुद्ध एफ़आईआर दर्ज कराए.

सांसद जमशेद दस्ती की अध्यक्षता वाली स्थाई समिति ने उन अधिकारियों के ख़िलाफ़ कड़ा रूख़ अख़्तियार किया है जो हमले के दौरान लापरवाही के दोषी पाए गए.

दस्ती ने संवाददाताओं को बताया कि पीसीबी के प्रमुख एजाज़ बट उस पूरी घटना के एक प्रत्यक्षदर्शी भी थे और उनसे कहा गया है कि दोषी अधिकारियों के विरुद्ध 10 दिन के भीतर पुलिस में एफ़आईआर दर्ज कराई जानी चाहिए.

समिति ने पीसीबी को चेतावनी देते हुए कहा, "अगर बट ऐसा नहीं करते हैं तो समिति ये मुसला ख़ुद प्रधानमंत्री के सामने उठाएगी और उनसे कहेगी कि काम में लापरवाही बरतने के दोषी अधिकारियों के विरुद्ध मामला दर्ज किया जाए."

समिति की माँग है कि उन अधिकारियों को सेवा से तुरंत बर्ख़ास्त कर दिया जाए क्योंकि उनकी लापरवाही की वजह से पाकिस्तान की छवि और वहाँ क्रिकेट को बड़ा नुक़सान पहुँचा.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है