कानपुर टेस्ट में भारत की शानदार जीत

कानपुर टेस्ट में भारतीय टीम
Image caption भारतीय टीम ने तीन शतकों की बदौलत पहली पारी में 642 रन बनाए थे

कानपुर में खेले गए दूसरे भारत-श्रीलंका टेस्ट मैच में भारत ने श्रीलंका को एक पारी और 144 रनों से हरा दिया है.

पहली पारी में भारत से 413 रनों से पिछड़ने के बाद श्रीलंका के सभी खिलाड़ी फॉलो ऑन के तहत दूसरी पारी में केवल 269 रन बना पाए. हालाँकि श्रीलंका के समरावीरा अंत तक डटे रहे और उन्होंने नाबाद 78 रन बनाए.

भारत ने पहली पारी में गंभीर, सहवाग और द्रविड़ के शतकों की मदद से 642 रन बनाए थे.

उधर श्रीलंका की पूरी टीम अपनी पहली पारी में कुल 229 रन बनाकर आउट हो गई थी. इसके बाद कप्तना महेंद्र सिंह धोनी ने श्रीलंका को फ़ॉलो ऑन देने में कोई देरी नहीं की थी.

अगर पहला और दूसरा दिन भारत के बल्लेबाज़ों के नाम रहा तो तीसरे और चौथे दिन भारतीय गेंदबाज़ों ने अपना जौहर दिखाया था. श्रीलंका की दूसरी पारी में हरभजन ने 98 रन देकर तीन विकेट, ओझा ने 36 रन देकर दो विकेट, और ज़हीर, श्रीसंत, सहवाग, युवराज ने एक-एक विकेट लिया.

इस जीत के साथ भारत टेस्ट क्रिकेट की अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग में 122 प्वाइंट के साथ पहले स्थान पर पहुंच गया है.

इस जीत के साथ भारत ने टेस्ट क्रिकेट में अपनी जीत का शतक भी पूरा किया.

गेंदबाज़ों का जौहर

चौथे दिन श्रीलंका ने 57 रन पर चार विकेट खोने के बाद से खेल शुरु किया.

मैथ्यूस को 15 रनों के स्कोर पर ही ज़हीर ख़ान की गेंद पर द्रविड़ ने लपका जब श्रीलंका का स्कोर 79 रन था. इस तरह श्रीलंका का पाँचवाँ विकेट गिरा.

छठे विकेट के रूप में जयवर्धने का विकेट गिरा जब हरभजन ने उन्हें बोल्ड आउट किया. उस समय टीम का स्कोर 140 रन था और जयवर्धने ने 29 रन बनाए थे.

इसके बाद शानदार बल्लेबाज़ी करते हुए हरभजन ने हेराथ को एलबीडब्ल्यू आउट किया. वे मात्र 13 रन बना पाए और जब श्रीलंका का सातवाँ विकेट गिरा तब श्रीलंका का स्कोर था 154 रन.

मुरलीधरन 29 रन बनाकर आउट हुए जब उन्हें ओझा ने बोल्ड आउट किया. जब श्रीलंका का आठवाँ विकेट गिरा तब टीम का स्कोर था 191 रन. इसके बाद मेंडिस 29 रनों के स्कोर पर वेलेगडारा मात्र चार रन बना पाए. श्रीलंका का नवाँ विकेट मेंडिस के रूप में गिरा जो युवराज के खाते में गया जबकि वेलेगडारा को ओझा ने अपनी ही गेंद पर कैच आउट किया.

तीसरा दिन

इससे पहले कानपुर टेस्ट के तीसरे दिन श्रीलंका की दूसरी पारी का पहला विकेट श्रीसंत के नाम गया था जब उन्होंने तिलकरत्ने दिलशान को 10 रनों पर धोनी के हाथों कैच कराया था.

दूसरा विकेट पार्ट टाइम गेंदबाज़ विरेंद्र सहवाग ने लिया जब उन्होंने परनविताना को 20 रनों पर पगबाधा आउट कर दिया.

जयवर्धने को युवराज सिंह और धोनी ने मिलकर रन आउट कर दिया तो जाते-जाते हरभजन सिंह ने कुमारा संगाकारा को 11 रनों पर बोल्ड कर दिया था.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है