तिहरे शतक से चूके सहवाग, पारी घोषित

वीरेंदर सहवाग
Image caption सहवाग 293 रन बनाकर आउट हो गए

मुंबई में भारत और श्रीलंका के बीच खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच में भारत ने तीसरे दिन नौ विकेट पर 726 रनों के विशाल स्कोर पर पारी घोषित कर दी, हालाँकि उससे पहले सलामी बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग तिहरा शतक बनाने से चूक गए. वो शुक्रवार सुबह मुथैय्या मुरलीधरन की गेंद पर 293 रन बनाकर आउट हो गए.

पहली पारी में भारत ने 726 रनों का जो बड़ा स्कोर खड़ा किया, उनमें सहवाग का 293 रन, कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का 100 रन, मुरली विजय का 87 रन, राहुल द्रविड का 74 रन, लक्ष्मण का 62 रन और तेंदुलकर का 53 रन अहम है.

शुक्रवार को भारत ने कल के 443 रन पर खेलना शुरू किया और अभी भारतीय टीम ने कल के स्कोर में केवल 15 रन ही जोड़े थे कि दूसरे विकेट के रुप में सहवाग पवैलियन लौट गए. मुरलीथरन ने अपनी ही गेंद पर कैट आउट किया है. दूसरे दिन वीरेंदर सहवाग ने शानदार दोहरा शतक जमाया था. टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में यह दूसरा सबसे तेज़ दोहरा शतक था.

सहवाग के आउट होने के बाद द्रविड भी अधिक समय विकेट पर नहीं रह सके. जब भारत का स्कोर था 487 रन था वो भी आउट हो गए. हालाँकि उस समय तक द्रविड 74 रन जड़ चुके थे. बाद में तेंदूलकर और लक्ष्मण दोनों ने 50 से अधिक रनों का योगदान दिया.

333 की बढ़त

युवराज का बल्ला कुछ कमाल नहीं कर सका, लेकिन कप्तान धोनी ने छह छक्कों और तीन चौकों की मदद से अपना शतक पूरा किया. धोनी के शतक बनाने के बाद पारी घोषित कर दी गई. उस समय तक भारत का नौ विकट गिर चुका था.

इस तरह तीसरे दिन के खेल के अंत तक भारत ने श्रीलंका से 333 रन की बढ़त हासिल कर ली.

श्रींलंका की ओर से मुथैय्या मुरलीधरन ने चार और हेराथ ने तीन विकेट लिए.

दूसरी पारी की शुरुआत करते हुए श्रींलंका ने बिना विकेट गँवाए 11 रन बना लिए थे.

पारानाविताना और दिलशान तीसरे दिन का खेल ख़त्म होने तक आठ और तीन रन बनाकर पिच पर डटे हुए थे.

याद रहे कि पहली पारी में श्रीलंका की पूरी टीम 393 रन बनाकर सिमट गई थी.

संबंधित समाचार