पाकिस्तान का कोई खिलाड़ी नहीं बिक सका

  • 19 जनवरी 2010
कैरोन पोलार्ड
Image caption वेस्टइंडीज़ के पोलार्ड आईपीएल-3 के सबसे मंहगे खिलाड़ी

इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल के तीसरे संस्करण में पाकिस्तान के किसी भी खिलाड़ी को कोई ख़रीददार नहीं मिल सका है.

हालांकि विस्फोटक बल्लेबाज़ और आल राउंडर शाहिद अफरीदी समेत कुल ग्यारह खिलाड़ी नीलामी के लिए आवेदनकर्ताओं में शामिल थे लेकिन किसी भी टीम ने इन खिलाड़ियों में दिलचस्पी नहीं दिखाई.

नीलामी में सबसे ज़्यादा बोली लगी वेस्टइंडीज़ के खिलाड़ी केडन पोलार्ड पर, जिन्हें मुंबई इंडियंस ने तीन करोड़ 42 लाख रुपए में ख़रीदा.

न्यूज़ीलैंड के शेन बॉन्ड भी तीन करोड़ 42 लाख रुपए में बिके. उन्हें ख़रीदा कोलकाता नाइटराइडर्स ने.

आईपीएल में हुई नीलामी में न्यूज़ीलैंड के शेन बॉन्ड को लेकर कोलकाता नाइट राइडर्स और डेकन चार्जर्स की बोलियों में टाई हो गया था और बाद में गुप्त बोली में वो कोलकाता नाइट राइडर्स के खाते में गए.

इसके पहले वेस्टइंडीज़ के कैरोन पोलार्ड को ख़रीदने को लेकर चार टीमों- कोलकाता, चेन्नई, मुंबई और बंगलौर में टाई हो गया था.

बाद में उनके लिए अलग से गुप्त बोली हुई जिसमें सर्वाधिक बोली के कारण वो मुंबई इंडियंस के खाते में गए.

भारत के मोहम्मद कैफ़ पहले दौर की नीलामी में नहीं बिक पाए थे लेकिन दूसरे दौर में उन्हें प्रीति जिंटा की किंग्स इलेवन पंजाब ने ख़रीदा.

ग़ौरतलब है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के तीसरे संस्करण के लिए मंगलवार को होने वाली नीलामी में 66 विदेशी खिलाड़ियों की बोली लगी.

पहले 97 खिलाडियों ने नीलामी में शामिल होने के लिए आवेदन दिया था लेकिन आईपीएल ने अंतिम रूप से 66 खिलाड़ियों को इस सूची में शामिल किया.

इसमें पाकिस्तान, आस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के 11-11 खिलाड़ियों को शामिल किया गया है.

इसके अलावा श्रीलंका के नौ और इंग्लैंड के आठ खिलाडियों को भी इस सूची में जगह दी गई है.

नीलामी की सूची में वेस्टइंडीज़ के सात, न्यूज़ीलैंड के चार और ज़िम्बाब्वे, बांग्लादेश, कनाडा और हालैंड का एक-एक खिलाड़ी शामिल हैं.

नए खिलाड़ी

इस सूची में इंग्लैंड के इयान मोर्गन, वेस्टइंडीज़ के कैरोन पोलार्ड, न्यूज़ीलैंड के शेन बॉन्ड और आस्ट्रेलिया के डेमियन जैसे आईसीएल से नाता तोड़ने वाले खिलाड़ी भी शामिल किए गए थे.

बांग्लादेश के सकीबुल हसन पिछले वर्ष की नीलामी सूची में भी शामिल थे लेकिन नीलामी के समय किसी भी फ्रेंचाइजी ने उन्हें अपनी टीम में शामिल करने को लेकर दिलचस्पी नहीं दिखाई थी.

पहली बार इस नीलामी में अंडर-19 के खिलाड़ियों को भी शामिल किया गया और इसमें से तीन खिलाड़ी अशोक मिनारिया, हरमीत सिंह और हर्षत पटेल की बिक्री आठ लाख रुपए में हुई.

इस बार हर फ्रेंचाइजी टीम के पास नीलामी में नए खिलाड़ियों को ख़रीदने के लिए 750,000 डॉलर की इनामी राशि थी.

इन खिलाड़ियों को एक सत्र के लिए कॉन्ट्रैक्ट किया जाएगा जो 31 दिसंबर, 2010 तक होगा. इसमें चैंपियंस लीग ट्वेंटी-20 भी शामिल है.

संबंधित समाचार