मीरपुर में भारत 10 विकेट से जीता

ज़हीर ख़ान
Image caption गेंदबाज़ ज़हीर ख़ान को 'मैंन ऑफ़ द मैच' और 'मैन ऑफ़ द सिरीज़' चुना गया.

मीरपुर में खेले गए दूसरे टेस्ट में भारत ने मेज़बान बांग्लादेश को 10 विकेट से हरा दिया है.

'आइडिया कप' के नाम से खेली गई ये श्रृंखला भारत ने दो-शून्य से अपने नाम कर ली है. चटगांव में खेल गए पहले टेस्ट मैच में भारत ने बांग्लादेश को 113 रन से हराया था.

दूसरी पारी में शानदार गेंदबाज़ी करने वाले ज़हीर ख़ान को 'मैन ऑफ़ द मैच' चुना गया. इस श्रृंखला में ज़हीर ने कुल 15 विकेट लिए. उनके इस प्रदर्शन को देखते हुए ' मैन ऑफ़ द सिरीज़' का सम्मान दिया गया.

दूसरी पारी में तमीम इक़बाल की 151 रन की पारी भी बांग्लादेश की हार को टाल नहीं पाई.

बेहतरीन गेंदबाज़ी

चौथे दिन मेज़बान टीम ने तीन विकेट पर 228 रन के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया लेकिन ज़हीर ख़ान की तेज़ गेंदजबाज़ी के सामने बांग्लादेश के बल्लेबाज़ बहुत देर तक टिक नहीं सके.

लंच तक उनके नौ बल्लेबाज़ पैवेलियन पहुँच चुके थे. लंच के बाद खेल शुरू होने पर ज़हीर ख़ान ने रुबेल हुसैन को भी बोल्ड कर दिया.

इस तरह बांग्लादेश की पूरी टीम 312 रन बनाकर आउट हो गई और भारत के सामने जीत के लिए दो रन का लक्ष्य रखा.

जीत की इस औपचारिकता को पूरा करने के लिए गौतम गंभीर और वीरेंदर सहवाग मैदान पर आए लेकिन उन्हें अपना बल्ला भी नहीं चलना पड़ा और भारत ने यह मैच अतिरिक्त रन के आधार पर ही जीत लिया.

ज़हीर खान ने शानदार गेंदबाज़ी करते हुए सात बल्लेबाज़ों को पैवेलियन भेजा. उन्होंने दूसरी पारी में 20.3 ओवर गेंदबाज़ी की और 87 रन देकर सात विकेट लिए.

ज़हीर के बाद प्रज्ञान ओझा भारत के दूसरे सबसे सफ़ल गेंदबाज़ रहे. उन्होंने 22 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए 77 रन देकर दो विकेट लिए. हरभजन सिंह को एक विकेट मिला.

बांग्लादेश की दूसरी पारी में तमीम इक़बाल ने 151 और ज़ुनैद ने 55 रन बनाए. शहादत हुसैन ने 40 रन का योगदान दिया. इनके अलावा उनका कोई भी बल्लेबाज़ खुलकर खेल नहीं पाया.

पहली पारी

इसके पहले बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया था और पहली पारी में 233 रन बनाए थे.

महमूदुल्ला उनके सबसे सफल बल्लेबाज़ थे. वो 96 रन बनाकर नाट आउट रहे थे.

पहली पारी में इशांत शर्मा को चार, ज़हीर ख़ान को तीन, प्रज्ञान ओझा को दो और हरभजन सिंह को एक विकेट मिला था.

अपनी पहली पारी में भारत ने आठ विकेट पर 544 रन बनाकर अपनी पारी घोषित कर दी थी.

इसमें सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ का शतक शामिल था. सचिन ने 143 और द्रविड़ ने 111 रन का योगदान दिया.

शफ़ीउल इस्लाम बांग्लादेश के सबसे सफल गेंदबाज़ थे. उन्होंने 23 ओवर में 86 रन देकर तीन बल्लेबाज़ों को आउट किया.

वहीं शाकिब अल हसन ने 34 ओवर में 118 रन देकर दो बल्लेबाजों को आउट किया.

संबंधित समाचार