बीसीसीआई की अपील ख़ारिज

बीसीसीआई
Image caption बीसीसीआई की अपील ठुकराई गई

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने दिल्ली के फ़िरोज़शाह कोटला पर एक साल की पाबंदी लगाने के फ़ैसले के ख़िलाफ़ अपील को ख़ारिज कर दिया है.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इस पाबंदी के ख़िलाफ़ अपील की थी. दिसंबर में भारत और श्रीलंका के बीच एक दिवसीय मैच के दौरान पिच में असमान उछाल के कारण मैच रद्द कर दिया गया था.

बाद में आईसीसी ने एक साल तक इस मैदान पर अंतरराष्ट्रीय मैच न कराने का फ़ैसला किया था.

इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ बीसीसीआई की अपील पर आईसीसी के स्वतंत्र अपीलीय आयुक्त माइकल बेलॉफ़ ने टेलिकॉन्फ़्रेंसिंग के ज़रिए सुनवाई की.

बयान

इस सुनवाई के बाद आईसीसी ने बीसीसीआई की अपील ठुकराए जाने के बारे में बयान जारी किया.

इस बयान में कहा गया है- अपने फ़ैसले में बेलॉफ़ ने लिखा है कि उन्होंने बीसीसीआई और आईसीसी की ओर से पेश किए गए सभी सबूतों पर विचार-विमर्श किया. इस आधार पर उन्होंने कहा है कि आईसीसी मैच रेफ़री रंजन मदुगले और डेव रिचर्ड्सन का फ़ैसला सही है.

दिसंबर में भारत और श्रीलंका के बीच एक दिवसीय मैच के दौरान सिर्फ़ 23.4 ओवर फेंके गए थे और इसके बाद पिच में असमान उछाल के कारण मैदान को मैच के लायक नहीं समझा गया.

इस फ़ैसले के बाद आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हारून लॉरगेट ने कहा है कि अब हमें इस पर ध्यान देना चाहिए कि फ़िरोज़शाह कोटला मैदान अगले साल विश्व कप से पहले तैयार हो जाए.

संबंधित समाचार