भारत को 347 की बढ़त

महेंद्र सिंह धोनी
Image caption धोनी ने लक्ष्मण के साथ मिलकर स्कोर 600 के पार पहुँचाया

कोलकाता टेस्ट में भारत ने वीवीएस लक्ष्मण और महेंद्र सिंह धोनी के शतकों की मदद से दक्षिण अफ़्रीका पर पहली पारी में 347 रनों की बढ़त ले ली है.

इस तरह भारत ने कोलकाता टेस्ट पर पकड़ मज़बूत कर ली है और अब उसकी कोशिश मैच जीतकर सिरीज़ बराबर करने की है.

टेस्ट के तीसरे दिन भारत का सिर्फ़ एक ही विकेट गिरा जबकि नाइट वॉच मैन के तौर पर आए अमित मिश्रा 28 रन बनाकर आउट हुए.

भारत का दूसरे दिन स्कोर पाँच विकेट के नुक़सान पर 342 रन रहा था.

उसके बाद विकेट पर आए कप्तान धोनी ने लक्ष्मण का साथ दिया और दोनों ने मिलकर भारत के स्कोर को 643 तक पहुँचाया.

साझेदारी

लक्ष्मण की पारी थोड़ी धीमी रही और उन्होंने 260 गेंदों में 143 रन बनाए. जबकि धोनी 132 पर नाबाद रहे.

लक्ष्मण ने इस पारी के दौरान सात हज़ार रन पूरे कर लिए. इस तरह भारत की ओर से एक पारी में चार शतक लगे.

Image caption हरभजन ने पहली पारी में तीन विकेट लिए थे और दूसरी पारी में भी भारत को उनसे उम्मीद है

इससे पहले सोमवार को सचिन तेंदुलकर और वीरेंदर सहवाग ने शतक जड़े थे.

दोनों के बीच 259 रनों की साझेदारी हुई मगर जब भारत ने पारी घोषित की उसके बाद दक्षिण अफ़्रीका ज़्यादा देर बल्लेबाज़ी नहीं कर सका.

अभी उसने ज़हीर ख़ान के पहले ओवर में छह रन ही बनाए थे कि ख़राब रोशनी की वजह से मैच रोक दिया गया.

इस तरह दक्षिण अफ़्रीका अब भी 341 रन पीछे है और उसके पास मैच बचाने के लिए दो दिन का समय है.

सचिन और सहवाग

सोमवार को सहवाग ने टेस्ट करियर का 19वाँ शतक लगाया था तो सचिन ने 47वाँ. ये सचिन तेंदुलकर का लगातार चौथा टेस्ट शतक था. उन्होंने बांग्लादेश के ख़िलाफ़ दोनों टेस्टों में और दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ नागपुर टेस्ट में भी शतक जड़ा था.

दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 249 रनों की अहम साझेदारी भी की.

लेकिन सोमवार शाम एक के बाद एक दोनों के विकेट गिरने के बाद भारतीय बल्लेबाज़ों पर दबाव आ गया था.

इससे पहले दक्षिण अफ़्रीका की टीम 296 रनों के स्कोर पर आउट हुई थी.

संबंधित समाचार