आईपीएल के बहिष्कार का शोर कम हुआ

ललित मोदी
Image caption ललित मोदी ने नई सुरक्षा योजना के विवरण अभी सार्वजनिक नहीं किए हैं

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आयोजकों की ओर से सुरक्षा व्यवस्था को लेकर दिए गए नए आश्वासनों के बाद सामूहिक बहिष्कार की धमकियाँ कुछ धीमी पड़ गई हैं.

खेल संगठनों को आईपीएल के आयोजकों ने आश्वासन दिया है कि हर मैच में आईपीएल की सुरक्षा योजना को अमल में लाया जाएगा.

यह आश्वासन पिछले हफ़्ते के उस आकलन के बाद आया है जिसमें कहा गया है कि अल-क़ायदा की धमकी 'विश्वसनीय नहीं' थीं.

'क्रिकेटर्स' के टिम मे ने बीबीसी से हुई बातचीत में कहा कि इन ख़बरों से सुरक्षा को लेकर विश्वास बढ़ेगा.

आईपीएल का तीसरा सीज़न 12 मार्च से शुरु हो रहा है और इस बार सबसे बड़ी चिंता सुरक्षा ही नज़र आ रही है.

मे ने कहा था कि बहुत से लोग इस बार खेल से अपना नाम वापस ले सकते हैं. इस बीच ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ शेन वार्न और इंग्लैंड के बल्लेबाज़ रवि बोपारा ने कहा था कि वे आईपीएल में हिस्सा लेने के बारे में दोबारा विचार कर रहे हैं.

बोपारा को अपनी टीम किंग्स इलेवन में हिस्सा लेने के लिए पिछले सप्ताहांत ही रवाना होना था, लेकिन उन्होंने अपना आना कुछ टाल दिया है और वे इस वक़्त इंग्लैंड में ही हैं.

मोदी भी आश्वस्त

लेकिन टिम मे जैसे लोगों और खिलाड़ीयों की मनोस्थिति आईपीएल के आश्वासन के बाद बदली हुई सी है.

अब मे कहते हैं, "यदि खिलाड़ियों को सुरक्षा के संबंध में जानकारियाँ उपलब्ध करवाई जाएँगीं तो इस बात की संभावना बढ़ेगी कि वे खेल में हिस्सा लेंगे."

आईपीएल के चेयरमैन ललित मोदी ने बीबीसी से कहा कि वे इस बात से ख़ुश हैं कि सुरक्षा इंतज़ामों से सभी सहमत नज़र आ रहे हैं.

उन्होंने कहा, "यह बहुत अच्छी ख़बर है, मुझे नहीं लगता कि अब कोई अपना नाम वापस लेने जा रहा है."

उनका कहना था, "बहुत से खिलाड़ी भारत पहुँचने के लिए विमानों पर सवार हो चुके हैं और वे अगले कुछ दिनों में भारत पहुँच जाएँगे."

भारत में हॉकी विश्व कप, आईपीएल और राष्ट्रमंडल खेलों की सुरक्षा को लेकर चिंता उस समय बढ़ गई थी जब एशिया टाइम्स ऑनलाइन ने अल-क़ायदा के एक संगठन 313 ब्रिगेड की ओर से इन आयोजनों के दौरान हमलों की धमकी को प्रकाशित किया था.

इसके बाद हिंदू संगठन शिव सेना ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को भारत में न खेलने देने की धमकी दी थी.

हालांकि मोदी ने उन सुरक्षा इंतज़ामों का विवरण देने से इनकार कर दिया, जो उन्होंने खेल संगठ नों से साझा की है, लेकिन उनका कहना है कि इससे सभी संगठन आश्वस्त हैं.

संबंधित समाचार