आहत यूसुफ़ ने संन्यास लिया

मोहम्मद यूसुफ़

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोहम्मद यूसुफ़ ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है.

पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया दौरे पर ख़राब प्रदर्शन के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने एक जाँच समिति का गठन किया था.

इस समिति की सिफ़ारिश पर कई खिलाड़ियों पर कार्रवाई हुई, जिनमें से कुछ पर जुर्माना लगा तो कुछ पर पाबंदी.

मोहम्मद यूसुफ़ पर पाकिस्तान के लिए क्रिकेट खेलने पर पाबंदी लगा दी गई है. हालाँकि पीसीबीई ने यह स्पष्ट किया था कि ये आजीवन पाबंदी नहीं है और उचित समय पर उन पर से पाबंदी हटाई जा सकती है.

लेकिन पाबंदी से आहत मोहम्मद यूसुफ़ ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी.

आहत

कराची प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत करते हुए मोहम्मद यूसुफ़ ने कहा, "मुझे पीसीबी की ओर से एक पत्र मिला था, जिसमें कहा गया था कि मेरा टीम में बने रहना नुक़सानदेह है. इसलिए मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले रहा हूँ."

मोहम्मद यूसुफ़ ने अपने सभी प्रशंसकों, वरिष्ठ खिलाड़ियों और परिजनों को धन्यवाद दिया.

आहत नज़र आ रहे यूसुफ़ ने कहा, "मैंने हमेशा अपने देश के लिए क्रिकेट खेला है. लेकिन अगर मेरा खेलना टीम के लिए नुक़सानदेह है तो मैं नहीं खेलना चाहता."

35 वर्षीय मोहम्मद यूसुफ़ ने पाकिस्तान की ओर से 88 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें से नौ में उन्होंने टीम की कप्तानी की है. उन्होंने 53.07 की औसत से 7431 रन बनाए हैं, जिनमें 24 शतक शामिल हैं.

मोहम्मद यूसुफ़ ने 282 एक दिवसीय मैच भी खेले हैं, जिनमें उन्होंने 9624 रन बनाए हैं.

संबंधित समाचार