बंगलौर और डेक्कन ने दिखाया दम

  • 11 अप्रैल 2010
एंड्रयू साइमंड्स
Image caption एंड्रयू साइमंड्स ने फिर अच्छी पारी खेली

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में शनिवार को हुए दो मैचों में डेक्कन चार्जर्स और बंगलौर रॉयल चैलैंजर्स ने जीत हासिल की.

पहले मैच में डेक्कन चार्जर्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को छह विकेट से मात दी, तो दूसरे मैच में बंगलौर रॉयल चैलेंजर्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स को सात विकेट से हराया.

नागपुर में हुए पहले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी चुनी लेकिन उनका ये फ़ैसला अच्छा साबित नहीं हुआ.

सुरेश रैना और कुछ हद तक मुरली विजय को छोड़कर चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से कोई नहीं चल पाया.

चेन्नई सुपर किंग्स ने 20 ओवर में आठ विकेट पर 138 रन बनाए. सुरेश रैना ने सर्वाधिक 52 रन बनाए, तो मुरली विजय ने 23 रनों की पारी खेली.

डेक्कन चार्जर्स की ओर से हैरिस ने 18 रन देकर तीन विकेट झटके.

जीत के लिए 139 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही डेक्कन चार्जर्स की शुरुआत अच्छी नहीं रही. कप्तान एडम गिलक्रिस्ट सिर्फ़ सात रन बनाकर पवेलियन लौट गए.

लेकिन टी सुमन ने धमाकेदार पारी खेली और 55 रन बना डाले. आख़िर में एंड्रयू साइमंड्स और ड्वेन स्मिथ ने अच्छे हाथ दिखाकर अपनी टीम को जीत दिला दी.

साइमंड्स ने 27 और स्मिथ ने 13 रन बनाए. हैरिस को मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.

दूसरा मैच

आईपीएल के एक अन्य मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स के सामने थी बंगलौर रॉयल चैलैंजर्स की टीम.

Image caption रॉबिन उथप्पा ने जीत में अहम भूमिका निभाई

बंगलौर में हुए इस मैच में अनिल कुंबले ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी चुनी. लगा उनका फ़ैसला ग़लत साबित हो रहा है.

क्रिस गेल, सौरभ गांगुली और बाद में ब्रैंडन मैकुलम ने तेज़ी से रन बटोरे. लेकिन इन तीनों के आउट होने के बाद जैसे टीम पर ग्रहण ही लग गया.

एक समय 200 तक का स्कोर खड़ा करने में सक्षम दिख रही टीम 20 ओवर में नौ विकेट पर 160 रन ही बना पाई.

मैकुलम ने सर्वाधिक 45 रन बनाए. गांगुली ने 33 और गेल ने 34 रनों की पारी खेली. आर विनय कुमार को तीन विकेट मिले, तो ज़ाक कैलिस ने दो.

बंगलौर के सामने जीत के लिए 161 रनों का लक्ष्य था, जो उसने 17.1 ओवर में तीन विकेट के नुक़सान पर ही हासिल कर लिया.

इस मैच में कैलिस नहीं चले. वे सिर्फ़ आठ रन ही बना पाए. लेकिन राहुल द्रविड़, एस श्रीराम, रॉबिन उथप्पा और रॉस टेलर ने अपना दम दिखाया.

सबसे धमाकेदार पारी खेली उथप्पा ने, जिन्होंने सिर्फ़ 22 गेंद पर तीन चौके और पाँच छक्के की मदद से 52 रन बना डाले. द्रविड़ ने भी 35 गेंद पर 52 रन बनाए.

टेलर 14 रन बनाकर नाबाद रहे, जबकि एस श्रीराम ने 27 रनों का योगदान दिया. बंगलौर के आर विनय कुमार को मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.

संबंधित समाचार