चेन्नई सुपर किंग्स सेमीफ़ाइनल में

धोनी (फ़ाइल फ़ोटो)
Image caption धोनी ने अंतिम ओवर में दो लगातार छक्के लगाकर मैच ख़त्म कर दिया.

महेंद्र सिंह धोनी की आतिशी बल्लेबाज़ी के बूते चेन्नई सुपर किंग्स ने पंजाब को छह विकेट से हरा कर आईपीएल सेमीफ़ाइनल में जगह बना ली है.

पंजाब की टीम पहले ही खिताबी होड़ से बाहर हो चुकी है.

पहाड़ियों से घिरे धर्मशाला के मैदान पर पहले बैटिंग करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब ने बीस ओवरों में तीन विकेट पर 192 रनों का बड़ा लक्ष्य दिया.

इसके जवाब में सुरेश रैना और एस बद्रीनाथ की तूफ़ानी पारी के बूते एक समय चेन्नई मजबूत स्थिति में पहुँच गया.

रैना ने शानदार 46 रन बनाए जबकि बद्रीनाथ ने अर्धशतक लगाया. लेकिन दोनों के आउट होने के बाद स्थिति ख़राब हो गई और एक समय रन रेट 15 से ऊपर निकल गया.

ऐसे में महेंद्र सिंह धोनी ने आतिशी बल्लेबाज़ी कर आख़िरी ओवर में मैच का रुख़ मोड़ दिया.

आख़िर में मोर्कल और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने जीत का सफ़र पूरा करा दिया.

पंजाब

Image caption मार्श ने शानदार बल्लेबाज़ी की.

इस मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के पास खोने के लिए कुछ नहीं था क्योंकि वो पहले ही सेमीफ़ाइनल की होड़ से बाहर चुका है.

टीम की शुरुआत अच्छी रही. सलामी बल्लेबाज़ शॉन मार्श ने 41 गेंदों में अर्धशतक बनाने के बाद तेजी से खेलते हुए 57 गेंदों में आठ चौके और पाच छक्के की मदद से नाबाद 88 रन बनाए जबकि इरफ़ान पठान 44 रन बनाकर अंत तक नाबाद रहे.

महेला जयवर्धने ने शॉन मार्श के साथ पंजाब की पारी का संतुलित आगाज किया और तीन ओवर में 36 रन ठोक दिए.

सर्वाधिक स्कोर बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में चौथे स्थान पर चल रहे जयवर्धने ने आठ गेंदों की आतिशी पारी खेली. उन्होंने दो चौके और दो छक्के की मदद से 21 रन बनाए.

इसी स्कोर पर जयवर्धने आउट हो गए. इसके बाद जयवर्धने ने संगाकारा के साथ टीम का स्कोर आगे बढ़ाया और दूसरे विकेट के लिए 56 रन जोड़े.

अश्रि्वन ने संगाकारा को बोल्ड कर उनकी तेज पारी का अंत किया और इसके बाद युवराज सिंह फिर फ़्लॉप हो गए. महज एक रन बनाकर सुरेश रैना की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए.

संबंधित समाचार