टीम के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं राजपाल

  • 11 मई 2010
भारतीय हॉकी खिलाड़ी (फ़ाईल)
Image caption टूर्नामेंट में भारत एकमात्र टीम है जिसने कोई भी मैच नहीं हारा है

हॉकी विश्व कप में हार के बाद ज़बरदस्त आलोचना सहने वाले भारतीय कप्तान राजपाल सिंह ने सुल्तान अज़लान शाह कप हॉकी प्रतियोगिता में टीम के अच्छे प्रदर्शन पर संतोष ज़ाहिर किया है.

बीबीसी हिंदी से मलेशिया के इपोह से ख़ास बातचीत में राजपाल ने कहा, "विश्व कप के दौरान टीम ने जो ग़लतियाँ की थीं, टीम की कोशिश उन्हीं को कम करने की थी और उन ग़लतियों को कम करते-करते टीम ने इतना अच्छा प्रदर्शन किया है."

भारतीय टीम सुल्तान अज़लान शाह कप हॉकी प्रतियोगिता की पिछली बार की विजेता टीम है और इस बार पहले मैच में चीन के विरुद्ध निराशाजनक प्रदर्शन के बाद से टीम का प्रदर्शन सुधरा है.

चीन के विरुद्ध पहला मैच भारत किसी तरह 1-1 से बराबर कर पाया था मगर उसके बाद उसने पाकिस्तान, कोरिया और ऑस्ट्रेलिया को हराया है.

चीन के विरुद्ध भारत के औसत प्रदर्शन में राजपाल सिंह ने चीन के गोलकीपर की तारीफ़ की और कहा कि उसने काफ़ी अच्छा बचाव किया.

फ़ील्ड गोल

भारतीय कप्तान टीम के फ़ील्ड गोल से प्रभावित हैं और कहते हैं कि जीत के लिए ये गोल काफ़ी अहम रहते हैं.

उन्होंने कहा, "किसी भी टूर्नामेंट को जीतने के लिए फ़ील्ड गोल बेहद ज़रूरी हैं और हमारे लिए अच्छी बात है कि हम फ़ील्ड गोल काफ़ी कर रहे हैं."

ऑस्ट्रेलिया पर टीम को पहले हाफ़ के बाद 3-0 की बढ़त थी मगर मैच ख़त्म होने के समय स्कोर रहा 4-3 से भारत के पक्ष में.

ऑस्ट्रेलिया की इस वापसी पर राजपाल ने कहा, "ऑस्ट्रेलिया भी एक काफ़ी अच्छी टीम है और वो पूरी योजना के साथ उतरे थे दूसरे हाफ़ में. वो कुछ मौक़ों पर अच्छा खेले मगर हम पूरे मैच के दौरान अच्छा खेले."

ऑस्ट्रेलिया पर जीत के बाद भारत के खेल मंत्री मनोहर सिंह गिल ने भी टीम को बधाई दी थी.

भारत का अगला मैच मलेशिया से बुधवार को होना है जबकि अभी भारत चार मैचों में दस अंकों के साथ अंक तालिका में शीर्ष पर है.

राजपाल ने शिवेंद्र सिंह, तुषार खांडेकर और अर्जुन हलप्पा जैसे फ़ॉरवर्ड और डिफ़ेंस में सरदार सिंह और महादेव के प्रदर्शन की तारीफ़ की.

वहीं नए खिलाड़ियों में कप्तान को रवि पाल ने प्रभावित किया है.

संबंधित समाचार