महिला टीम सेमीफ़ाइनल में हारी

ब्लैकवेल आउट
Image caption ब्लैकवेल जब तक फ़्रंट फुट से पलटकर वापस आतीं विकेटकीपर ने गिल्ली उड़ा दी थी

वेस्टइंडीज़ में खेले जा रहे टी-20 विश्वकप में पुरुषों की टीम के बाहर होने के बाद अब महिलाओं की टीम भी सेमीफ़ाइनल में हारकर बाहर हो गई है.

भारतीय महिला टीम को ऑस्ट्रेलिया की टीम ने सात विकेट से पराजित किया.

पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत की टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में पाँच विकेट गँवाकर 119 रन बनाए थे.

लेकिन ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 18.5 ओवरों में तीन विकेट खोकर ही यह लक्ष्य हासिल कर लिया.

ऑस्ट्रेलिया की जीत में कप्तान एजे ब्लैकवेल की 61 रनों की शानदार पारी का काफ़ी योगदान रहा.

दूसरा सेमीफ़ाइनल शुक्रवार को न्यूज़ीलैंड और वेस्टइंडीज़ के बीच खेला जाएगा.

कप्तान की पारी ने जिताया

सेंट ल्यूसिया में खेले गए मैच में भारतीय शुरुआत ही ख़राब रही जब पहले ही ओवर की तीसरी गेंद पर नाइक कैच आउट हो गईं.

इसके बाद दूसरे और तीसरे विकेट की साझेदारी में अच्छे रन जु़डे.

लेकिन जब पारी का स्कोर 88 रन था तो कौर रन आउट हो गईं और अभी एक ही रन खाते में जुड़े थे कि कप्तान झूलन गोस्वामी बिना खाता खोले रन आउट हो गईं.

भारत की ओर से राउत ने सबसे अधिक 44 रन बनाए.

इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत भी बहुत अच्छी नहीं रही और उसने भी पहले ही ओवर में एक रन के स्कोर पर विलैनी के रुप में अपना पहला विकेट गँवा दिया.

लेकिन इसके बाद दूसरे विकेट की साझेदारी में टीम मज़बूत स्थिति में पहुँच गई और जब निट्सके विकेट गिरा तो ग्यारहवाँ ओवर चल रहा था और टीम का स्कोर 75 रनों तक पहुँच चुका था.

एजे ब्लैकवेल ने आठ चौकों की मदद से 61 रनों की कप्तानी पारी खेली लेकिन सोलहवें ओवर में रॉय की गेंद पर विकेटकीपर नाइक ने उन्हें स्टंप कर दिया.

लेकिन तब तक पॉल्टन टीम को जीत की ओर ले जाने की स्थिति में आ चुकी थीं.

उन्होंने 30 रनों की नाबाद पारी खेली और शानदार चौका लगाकर अपनी टीम को फ़ाइनल में प्रवेश दिलवाया.

संबंधित समाचार