इंग्लैंड ने टी-20 विश्व कप जीता

इंग्लैंड टीम

ट्वेन्टी 20 फ़ाइनल में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को सात विकेट से हराकर विश्व कप जीत लिया है.

प्रतियोगिता में सबसे मज़बूत माने जाने वाली ऑस्ट्रेलिया की टीम को इंग्लैंड ने बड़ी आसानी से सात विकेट से हरा दिया.

इंग्लैंड ने पहले तो ऑस्ट्रेलिया को 147 रन आउट कर दिया और फिर तीन विकेट खोकर इस लक्ष्य को हासिल कर लिया.

इंग्लैंड की जीत के हीरो रहे क्रेग कीसवेटर, उन्होंने 49 गेंदों में 63 रन बनाए और उन्हें मैन ऑफ़ द मैच क़रार दिया गया.

इंग्लैंड की ओर से पीटरसन ने 47 रनों की उपयोगी पारी खेली. उन्हें मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट क़रार दिया गया.

इंग्लैंड ने ट्वेंटी 20 विश्व कप ट्रॉफी पर पहली बार कब्ज़ा किया है.

इसके पहले इंग्लैंड के गेंदबाज़ों ने सधी हुई गेंदबाज़ी की और ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज़ों को बांधे रखा.

घातक गेंदबाज़ी

ऑस्ट्रेलिया के प्रारंभिक बल्लेबाज़ जल्दी जल्दी आउट हो गए लेकिन हसी बंधुओं ने ऑस्ट्रेलिया की पारी को संभाला और सम्मानजनक स्कोर तक पहुँचाया.

साइडबॉटम और स्वान की घातक गेंदबाज़ी ने ऑस्ट्रेलिया के शुरुआती बल्लेबाज़ों को पवेलियन लौटा दिया.

ऑस्ट्रेलिया की ओर से वॉटसन और वार्नर पारी की शुरुआत करने उतरे. लेकिन पहले ओवर में ही वॉटसन कैच थमा बैठे, वो सिर्फ़ दो रन बना सके.

दूसरे ओवर में वार्नर भी पैवेलियन लौट गए. लंब के शानदार थ्रो ने उनकी गिल्लियां बिखेर दीं. तीसरा ओवर में साइडबॉटम ने ब्रैड हैडिन को चलता कर दिया.

इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क और डेविड हसी ने मोर्चा संभाला. लेकिन माइकल क्लार्क 27 रन बनाकर स्वान की गेंद पर आउट हो गए.

फिर डेविड हसी और कैमरून व्हाइट ने डटने की कोशिश की. कैमरून व्हाउट 19 गेंदों में 30 रनों का योगदान दिया.

दस ओवर तक ऑस्ट्रेलियाई टीम चार विकेट खो चुकी थी और स्कोरबोर्ड पर सिर्फ़ 47 रन थे.

लेकिन हसी बंधुओं माइकल और डेविड किसी तरह ऑस्ट्रेलिया की पारी 147 तक ले जाने में सफल रहे. लेकिन उनकी ये कोशिश कामयाब नहीं हुई.

संबंधित समाचार