मैच फ़िक्सिंग जाँच का ब्यौरा मांगा

पाकिस्तान के खिलाड़ी
Image caption पाकिस्तान के खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर उंगलियां उठाई जा रही हैं

आस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड ने आईसीसी से पाकिस्तान टीम के दौरे से संबंधित मैच फ़िक्सिंग जांच का ब्यौरा मांगा है.

हालांकि बोर्ड ने इस बात पर ज़ोर दिया है कि उसकी टीम ने निष्पक्षता के साथ इस सिरीज़ को जीता था.

ऑस्ट्रेलियन अख़बार ‘द एज’ में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक़ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख जेम्स सदरलैंड ने जांच से जुड़े ब्यौरे के लिए आईसीसी को पत्र लिखा है.

वर्तमान जांच खासतौर पर सिडनी टेस्ट पर केंद्रित है जिसमें आस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 206 रन से पिछड़ने के बावजूद पाकिस्तान को 36 रन से हरा दिया था.

सिडनी टेस्ट में पाकिस्तान के खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर उंगलियां उठी हैं.

कामरान अकमल ने उस मैच में कई ग़लतियाँ की थी जिनमें चार कैच छोड़ना और रन आउट न कर पाना शामिल थे.

पुख्ता जानकारी नहीं

आस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड के एक प्रवक्ता ने बताया, "किसी तरह की ख़ामियों के बारे में हमें अभी तक कोई जानकारी नहीं है. और किसी तरह की ख़ामी हुई है तो उम्मीद है कि इस बारे में हमें अवगत कराया जाएगा."

उन्होंने कहा, "अगर आईसीसी को किसी भी तरह की आपत्ति है तो इस संबंध में हम उन्हें हरसंभव मदद देंगे. वैसे हम मानते हैं कि अपने प्रदर्शन के दम पर ही हमने वह मैच जीता था."

मैच फिक्सिंग के ये आरोप नए नहीं हैं. पहले भी पाकिस्तान को ऐसे आरोपों से जूझना पड़ा है.

1998-2000 के दौरान हुई जांच में मैच फिक्सिंग के आरोप में पूर्व कप्तान सलीम मलिक और गेंदबाज़ अताउर्रहमान पर पाबंदी लगी थी.

संबंधित समाचार