'विश्व कप में आतंकवाद का ख़तरा'

Image caption ओबामा ने अमरीकी टीम को विदा किया

अमरीका ने फ़ुटबॉल विश्व कप में दक्षिण अफ़्रीका जाने वाले अपने नागरिकों के लिए चेतावनी जारी की है और आगाह किया है कि प्रतियोगिता के दौरान आतंकवाद का ख़तरा है.

अमरीका का कहना है कि इस तरह के सार्वजविक आयोजन निशाने पर रहते हैं.

अमरीकी विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है, “इस बात का ख़तरा है कि कट्टरवादी गुट आने वाले दिनों में दक्षिण अफ़्रीका में आतंकवादी गतिविधियाँ कर सकते हैं.”

बयान के मुताबिक, “हमारे पास किसी ख़ास जगह के बारे में जानकारी नहीं है लेकिन मीडिया में ऐसे हमलों के बारे में रिपोर्टें हैं.”

इस बीच अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अमरीकी टीम को फ़ुटबॉल विश्व कप की शुभकामनाएँ दी हैं.

उन्होंने कहा, “हमें अपनी टीम पर गर्व है. हम सब लोग आपका समर्थन करेंगे. अमरीका में लोग कभी-कभी भूल जाते हैं लेकिन दक्षिण अफ़्रीका में विश्व की बड़ी प्रतियोगिता होगी.”

बिल क्लिंटन भी खिलाड़ियों को विदा करने के लिए व्हाइट हाउस में मौजूद थे.

दर्शकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दक्षिण अफ़्रीका में हज़ारों की संख्या में पुलिस बल को प्रशिक्षित किया गया है.

11 जून से शुरु होने वाले फ़ुटबॉल विश्व कप में क़रीब तीन लाख 50 हज़ार लोगों के दक्षिण अफ़्रीका आने की उम्मीद है.

दक्षिण अफ़्रीका में पहली बार ये प्रतियोगिता हो रही है.

संबंधित समाचार