फ्रेंचेस्का बनीं फ़्रेंच ओपन चैंपियन

फ़्रेंच ओपन में महिलाओं के एकल मुक़ाबले का ख़िताब इटली की फ़्रेंचेस्का शियावोने ने जीत लिया है. उन्होंने फ़ाइनल में ऑस्ट्रेलिया की सामंथा स्टोज़र को 6-4, 7-6 (7/2) से हराया.

फ़्रेंचेस्का ने पहली बार कोई ग्रैंड स्लैम प्रतियोगिता जीती है.पहले सेट में फ़्रेंचेस्का ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया. वे पहला सेट 6-4 से जीत गईं.

लेकिन दूसरा सेट इतना आसान नहीं था. दोनों के बीच कड़ा मुकाबला हुआ. दूसरे सेट में कभी सामंथा का पलड़ा भारी होता नज़र आता था तो कभी फ़्रेंचेस्का का. दूसरे सेट में एक समय फ़्रेंचेस्का 1-4 से पीछे थीं लेकिन फिर उन्होंने अगली पाँच गेम में से चार जीत ली.

इस टक्कर में फ़्रेंचेस्का अंतत हावी रहीं और सेट 7-6 से जीत गईं.

जीत के बाद फ़्रेंचेस्का बेहद ख़ुश थीं और क्ले कोर्ट पर लेट गईं. उनका कहना था, “मैंने इस प्रतियोगिता के कई फ़ाइनल मैच देखे हैं और मुझे पता है कि सब चैंपियन क्या कहते हैं. मैं सब लोगों का शुक्रिया करना चाहती हूँ. मुझे एक सच्चे चैंपियन होने का एहसास हो रहा है.”

दोनों प्रतियोगी पहली बार ग्रैंड स्लैम के फ़ाइनल में खेल रहीं थीं.

फ़्रेंचेस्का इटली की पहली ऐसी खिलाड़ी हैं जो किसी ग्रैंड स्लैम के फ़ाइनल पहुँची. फ़्रेंचेस्का के ख़िलाफ़ सेमीफ़ाइनल में ऐलिना देमेन्तियेवा चोट के कारण खेल पूरा नहीं कर पाई थीं.

वहीं 26 वर्षीय सामंथा ने सेमीफ़ाइनल में चौथी नंबर की खिलाड़ी येलेना यानकोविच को हराया था. इससे पहले उन्होंने प्रतियोगिता में जस्टिन हेनिन और सरीना विलियम्स को मात दी थी.

महिलाओं में डबल्स मुक़ाबले का ख़िताब विलियम्स बहनों के नाम रहा.

संबंधित समाचार