भारत श्रृंखला से बाहर

भारत श्रींखला से बाहर
Image caption दिनेश चंडीमल की शानदार बल्लेबाज़ी

भारत जिंबाब्वे में खेली जा रही त्रिकोणीय श्रृंखला से बाहर हो गया है.

शनिवार को हरारे स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर खेले गए एक महत्वपूर्ण मुकाबले में श्रीलंका ने भारत को छह विकटों से हरा दिया है.

भारत ने श्रीलंका के सामने 269 रनों का लक्ष्य रखा था जिसे श्रीलंका ने बड़ी आसानी से सिर्फ चार विकटों के नुकसान पर 48.3 वोवरों में हासिल कर लिया.

चंडीमल की शतकीय पारी

श्रीलंका की ओर से चंडीमल ने सबसे अधिक 111 रन बनाए.

उनकी इस शानदार शतकीय पारी की बदौलत ही श्रीलंका ने ये जीत दर्ज की.

इस शानदार पारी के लिए दिनेश चंडीमल को मैंन ऑफ दी मैच चुना गया.

श्रीलंका की तरफ़ से थरंगा और दिलशान ने पारी की शुरूआत की लेकिन वे कुछ ज़्यादा नहीं कर सके.

केवल 29 रन पर श्रीलंका की पहली विकेट गिरी जब दिलशान सिर्फ 21 रन बनाकर आउट हो गए.

81 के स्कोर पर थरंगा भी आउट हो गए. लेकिन उसके बाद चंडीमल और कपुगेदेरा ने पारी संभाली और स्कोर को 195 तक ले गए.

अंत में मेंडीस और समरावीरा ने श्रीलंका को जीत दिला दी.

भारत की ओर से अश्विन सबसे सफल गेंदबाज़ रहे जिन्होंने 10 वोवरों में 50 रन देकर दो विकेट लिए.

इससे पहले श्रीलंका ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाज़ी का न्योता दिया.

भारत की ओर से दिनेश कार्तिक के साथ युवा बल्लेबाज नमन ओझा को पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी दी गई थी. परंतु करियर का पहला मैच खेल रहे ओझा जल्द ही पेवेलियन लौट गए.

कार्तिक एक बार फिर कुछ ख़ास नहीं कर सके और 27 रन बनाकर आउट हो गए.

टीम के दोनों सलामी बल्लेबाजों नमन ओझा और दिनेश कार्तिक के जल्द पेवेलियन लौट जाने के बाद कोहली ने यूसुफ पठान के साथ मिलकर पारी संभाली.

दोनों बल्लेबाजों के बीच 84 रनों की साझेदारी हुई.पठान के 44 रनों के निजी स्कोर पर आउट होने के साथ यह साझेदारी टूट गई.

कोहली ने थिलान तुषारा की गेंद पर आउट होने से पहले 95 गेंदों पर 68 रनों की पारी खेली.

उनकी इस पारी में पांच चौके शामिल थे.

कप्तान रैना फिर नाकाम

शानदार फार्म में चल रहे रोहित शर्मा ने यहां 32 रन बनाए.

गौतलब है कि इस श्रृंखला में रोहित ने लगातार दो शतक जड़े हैं.

कप्तान सुरेश रैना एक बार फिर नाकाम रहे और महज 19 रन बनाकार पैवेलियन लौट गए. निचले क्रम के बल्लेबाजों ने अहम योगदान दिया. अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मुकाबला खेल रहे अश्विन ने 32 गेंदों पर 38 रनों की तेज पारी खेली.

इस तरह भारतीय टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट पर 268 रन बनाए. श्रीलंका की ओर से तुषारा सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने नौ ओवरों में 57 रन खर्च करके तीन विकेट चटकाए.

संबंधित समाचार