बीबीसी फन एंड गेम्स

जबुलानी
Image caption फीफा 2010 की फ़ुटबाल का नाम है जबुलानी

स्पोर्ट्स जगत की हलचल बटोरे बीबीसी हिंदी एफ एम का कार्यक्रम बीबीसी फन एंड गेम्स.

इस सप्ताह के फ़ुटबाल स्पेशल बीबीसी फन एंड गेम्स में हैं फ़ुटबाल विशेषज्ञ नोवी कपाडिया. नोवी कपाडिया कहते हैं की 2010 फूटबाल वर्ल्ड कप की प्रबल दावेदार टीमों में शामिल हैं ब्राज़ील, इंग्लैंड, आर्जेन्टीना और स्पेन.

दक्षिण अफ्रीका में 11 जून से शुरू हुए फ़ुटबाल वर्ल्ड कप में दुनिया भर से 32 टीमें हिस्सा ले रही हैं. महीने भर चलने वाली इस प्रतियोगिता के पल पल की जानकारी देंगे बीबीसी संवाददाता पंकज प्रियदर्शी. पंकज इस वक़्त दक्षिण अफ्रीका में मौजूद हैं. जब पंकज ने वहां आम लोगों से बात की तो जाना की वो चाहते हैं की उनके देश की टीम इस बार ये वर्ल्ड कप ट्राफी जीते.

दक्षिण अफ्रीका के नौ शहरों में भाग ले रही 32 टीमों के बीच कुल 64 मुकाबले होंगे. और प्रतियोगिता का आखिरी मुकाबला होगा 11 जुलाई को.

सुनिए बीबीसी फन एंड गेम्स

1930 से शुरू हुई इस प्रतियोगिता का ये उनीसवां अंक है. वर्ल्ड कप इतिहास में ब्राज़ील एकलौती ऐसी टीम है जिसने ये ख़िताब पांच बार अपने नाम किया है.

फ़ुटबाल विशेषज्ञ नोवी कपाडिया भी मानते हैं की ब्राज़ील इस बार भी अगर लगन के साथ खेले तो जीत सकती है. ब्राज़ील की टीम के कप्तान लुसिओ है और कोच हैं डुंगा.

नोवी कहते हैं ब्राज़ील की शैली आकर्षक है और शायद इसीलिए दुनिया भर में ब्राज़ील की फ़ुटबाल टीम के प्रशंशक हैं. नोवी तो ये भी कहते हैं की क्यूंकि भारत की खुद की टीम तो वर्ल्ड कप में नहीं है इसलिए लगभग पचास प्रतिशत भारतीय तो ब्राज़ील का ही समर्थन करते दिखाई देंगे.

नोवी की माने तो ब्राज़ील की टीम निर्भर करती है उनके खिलाडी काका पर. लेकिन साथ ही नोवी ये भी कहते हैं की ब्राज़ील की कमोजोरी है उनकी फॉरवर्ड लाइन.

अभिनेता जॉन अब्राहम भी ब्राज़ील को लेकर उत्साहित हैं. और अगर वो अपनी फिल्म की शूटिंग में व्यस्त नहीं हुए तो 11 जुलाई को वर्ल्ड कप फ़ाइनल देखने दक्षिण अफ्रीका जायेंगे.

संबंधित समाचार