अर्जेंटीना, दक्षिण कोरिया जीते, तीसरा मैच ड्रा रहा

अमरीका के गोलकीपर हार्वड
Image caption अमरीका के गोलकीपर हार्वड को मैन ऑफ़ द् मैच चुना गया

विश्व कप फ़ुटबॉल के दूसरे दिन शनिवार को तीन मुक़ाबले हुए, जिनमें अर्जेंटीना और दक्षिण कोरिया ने जीत दर्ज की, जबकि इंग्लैंड और अमरीका के बीच खेला गया मैच बेनतीजा रहा.

तीसरा और आख़िरी मुक़ाबला इंग्लैंड और अमरीका के बीच दक्षिण अफ़्रीक़ा के शहर रस्टेनबर्ग में खेला गया जहां दोनों टीमों ने एक-एक गोल किए और इस तरह मैच ड्रा रहा.

इससे पहले खेल गए दो मुक़ाबलों में जहां अर्जेंटीना ने नाइजीरिया को 1-0 से हराया तो वहीं दक्षिण कोरिया ने ग्रीस को 2-0 से शिकस्त दी.

इंग्लैंड बनाम अमरीका

इंग्लैंड ने सधी हुई शुरुआत की और खेल के चौथे मिनट में ही हेस्की के पास पर स्टीवन जेरार्ड ने गेंद को गोलपोस्ट में डाल दिया.

इसके बाद वेन रूनी, फ़्रैंक लैम्पार्ड और जेरार्ड ने अमरीका पर लगातार हमले तो ज़रूर किए पर गोल करने में हर बार नाकाम रहे.

अमरीका के गोलकीपर टिम हावर्ड ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया और विपक्षी टीम की हर कोशिश को नाकाम बना दिया.

हावर्ड के शानदार प्रदर्शन पर उन्हें मैन ऑफ़ द् मैच चुना गया. उन्होंने सात गोल बचाए.

इंग्लैंड ने जहां चौथे मिनट पर गोल दाग़े वहीं अभी पहले हाफ़ का खेल समाप्त भी नहीं हुआ था कि अमरीका के डेंप्सी ने जवाबी गोल कर स्कोर को एक-एक बराबरी पहुंचा दिया. मैच के अंत तक यही स्कोर रहा.

पूरे मैच के दौरान इंग्लैंड ने लक्ष्य पर नौ निशाने साधे जबकि अमरीका को ऐसे मौक़े पांच बार मिले. गेंद पर इंग्लैंड का क़ब्ज़ा भी अमरीका से अधिक रहा. लेकिन अंतिम फ़ैसला बेनतीजा रहा.

अर्जेंटीना बना नाइजीरिया

Image caption अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी को नाइजीरिया के खिलाड़ी रोकने की कोशिश करते हुए.

विश्वकप फ़ुटबॉल के दूसरे मुक़ाबले में अर्जेंटीना ने नाइजीरिया को 1-0 से पछाड़ दिया है.

नाइजीरिया ने अर्जेंटीना को ज़बरदस्त टक्कर दी लेकिन पूरे खेल के दौरान अर्जेंटीना की टीम हावी रही.

वैसे इस मैच पर दुनियाभर के खेल प्रेमियों की नज़रें थीं, क्योंकि इस टीम के कोच फ़ुटबॉल के महानायक डिएगो माराडोना हैं और उनके नेतृत्व पर कई सवाल खड़े किए जा रहे थे, लेकिन इस जीत के साथ ही उन्होंने अपने नेतृत्व का लोहा मनवा लिया है.

उम्मीदों के अनुसार अर्जेंटीना की टीम ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया है और छठे ही मिनट में ग्रबिएल ने एक गोल दाग़ कर टीम को बढ़त दिला दी.

इसके साथ ही टीम को गोल की जो एक बढ़त मिली वो आख़िर तक बनी रही. इस गोल के बाद दोनों में से कोई भी टीम गोल नहीं कर सकी.

मेसी का जलवा

अर्जेटीना के ग्रेबिएल हाइंज़ ने गोल किया लेकिन मैन ऑफ़ द मैच नाइजीरिया के गोलकीपर विनसेंट एनिएमा को मिला. एनिएमा ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया और छह गोल बचाए.

पूरे खेल के दौरान अर्जेंटीना के हीरो और दुनिया के बेहतरीन फ़ुटबॉल खिलाड़ियों में गिने जाने वाले लियोनेल मेसी का जलवा दिखा और उन्होंने कई बार गोल करने की कोशिश की. मेसी गोल तो नहीं कर पाए लेकिन उनका खेल शानदार रहा और वो पूरे मैच के दौरान छाए रहे.

तावेज़ के साथ मेसी ने नाइजीरिया की टीम पर ख़ासा दबाव बनाए रखा.

हालांकि नाइजीरिया को भी गोल करने के कुछ नज़दीकी मौक़े मिले लेकिन उनके खिलाड़ी गेंद को गोलपोस्ट में डालने में हर बार नाकाम रहे.

पूरे खेल के दौरान गेंद पर अधिक समय अर्जेंटीना का ही क़ब्ज़ा रहा और उसने लक्ष्य पर 10 निशाने साधे जबकि नाइजीरिया को ऐसे मौक़े केवल तीन बार ही मिल सके.

दक्षिण कोरिया बनाम ग्रीस

इससे पहले खेले गए मैच में दक्षिण कोरिया ने ग्रीस को 2-0 से मात दी.

हालांकि विश्व कप में दक्षिण कोरिया को बड़ा दावेदार नहीं माना जा रहा है. लेकिन वर्ष 2002 के विश्व कप में दक्षिण कोरिया की टीम सेमी फ़ाइनल तक पहुँच गई थी. ग्रीस की टीम यूरो 2004 का ख़िताब जीत चुकी है.

विश्व कप में अनुभव की बात करें, तो दक्षिण कोरिया का ये आठवां विश्व कप है तो ग्रीस की टीम सिर्फ़ दूसरी बार विश्व कप में हिस्सा ले रही है.

संबंधित समाचार