भारत सात विकेट से हारा

  • 22 जून 2010
श्रीलंकाई टीम
Image caption महरूफ़ की हैट्रिक के बाद जश्न मनाते खिलाड़ी

फ़रवीज़ माहरूफ़ के पाँच विकेट चटकाने और कप्तान कुमार संगकारा के बेहतरीन 73 के स्कोर की मदद से श्रीलंका ने एशिया क्रिकेट कप में भारत को सात विकेट से हरा दिया है.

हालाँकि दो दिन बाद ये दोनों टीमें एक बार फिर फाइनल में भिड़ने वाली हैं.

दम्बुल्ला में खेलते हुए भारतीय टीम पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 209 पर आउट हुई थी और उसने 43 ओवरों का खेल खेला. रोहित शर्मा ने सबसे ज़्यादा 69 रन बनाए लेकिन महारूफ़ ने एक के बाद एक तीन विकेट गिराकर शो अपने नाम कर लिया.

ग़ज़ब की बात ये कि ये तीनों विकेट उसने तीन लगातार गेंदों पर 39वें ओवर की शुरूआत में गिराए.

बस माहरूफ़ की इस तिकड़ी के साथ ही भारतीय बल्लेबाज़ों का मध्यक्रम बिखर गया.

माहरूफ़ ने 42 रन बनवाकर पाँच विकेट लिए और उसके क्रिकेट खेल जीवन में पाँच विकेट लेने का ये दूसरा मौक़ा था.

मेज़बान श्रीलंका ने जीत का लक्ष्य 12 ओवर रहते हुए पूरा कर लिया और इस जीत के साथ उसे गुरूवार के फ़ाइनल के लिए एक नैतिक बढ़त हासिल हो गई है.

अच्छी पार्टनरशिप

तिलकरत्ने दिलशान ने 38 गेंदों का सामना करके 24 रन बनाए और उन्हें ज़हीर ख़ान की गेंद पर रवींद्र जडेजा ने कैच आउट किया. उपुल थरंगा ने भी 38 रनों का योगदान किया और इस बार ज़हीर ख़ान की गेंद पर कैच भारत के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने लपका.

श्रीलंका के लिए सबसे अच्छी भागीदारी संगाकारा और महेला जयवर्धने की रही जिन्होंने 109 गेंदों का सामना करके 104 रनों का योगदान किया. इसी स्कोर की वजह से जीत सुनिश्चित हो सकी.

संगकारा ने 82 गेंदों का सामना किया और दस चौके भी लगाए. जयवर्धने 53 के स्कोर के साथ नाबाद रहे और उन्होंने एक छक्के और पाँच चौकों के साथ ये स्कार बनाया.

भारत की तरफ़ से ज़हीर ख़ान ने सबसे अच्छी गेंदबाज़ी की और उन्होंने 42 रन देकर दो विकेट लिए.

भारत ने शुरूआत तो अच्छी की थी जब वीरेंदर सहवाग की जगह पर खेलने आए सलामी बल्लेबाज़ दिनेश कार्तिक और गौतम गंभीर ने बिना किसी नुक़सान के 58 बना दिए थे.

लेकिन उसके बाद गंभीर 23 के स्कोर पर आउट हुए और विराट कोहली को दस के स्कोर पर ही महारूफ़ ने आउट किया तो भारतीय खिलाड़ियों का हौसला कुछ हिल गया.

दिनेश कार्तिक ने 43 गेंदों का सामना करके 40 रन बनाए और उन्हें संगाकारा ने रंगाना हेराथ की गेंद पर कैच आउट किया.

सुरेश रैना ने 18 रन बनाए और उन्हें रंगाना हेराथ ने पगबाधा आउट किया. धोनी 41 के स्कोर पर चमारा कपुगदेरा की सीधी गेंद पर रन आउट हुए. तब तक 38 ओवर का खेल हो चुका था. और वहीं से भारतीय पारी बिखर चुकी थी जो कि आख़िरकार 43 ओवर में 209 रन बनाकर सिमट गई.

संबंधित समाचार