नडाल विंबलडन के फ़ाइनल में पहुंचे

रफायेल नडाल
Image caption नडाल अब रविवार को होने वाले फ़ाइनल में टॉमस बरडिच के सामने होंगे.

ब्रिटेन के एंडी मरे को सीधे सेटों में हराकर विश्व को नंबर एक टेनिस खिलाड़ी रफ़ाएल नडाल विंबलडन टेनिस प्रतियोगिता के फ़ाइनल में पहुंच गए हैं. सात बार ग्रैंड स्लैम जीत चुके नडाल ने मरे को छह-चार, सात-छह (सात-पांच) और छह-चार से मात दी.

एंडी मरे इस मैच जीत जाते तो वे 1938 के बाद विंबलडन के फ़ाइनल में पहुंचने वाले पहले ब्रिटिश खिलाड़ी बन जाते लेकिन शुक्रवार को हुए मैच में नडाल ने उन्हें ज़्यादा मौक़े नहीं दिए.

अब रविवार को होने वाले विंबलडन फ़ाइनल में नडाल का सामना चेक गणराज्य के टॉमस बरडिच से होगा. ग़ौरतलब है कि बरडिच नोवाक जोकोविच को हराकर फ़ाइनल में पहुंचे हैं. साथ ही उन्होंने इस बार रोजर फ़ेडरर को भी विंबलडन से बाहर का रास्ता दिखाया है.

रफ़ाएल नडाल पिछले साल घायल होने की वजह से विंबलडन में नहीं खेल पाए थे. वर्ष 2008 में उन्होंने ये ख़िताब जीता था.

सेंटर कोर्ट में इंग्लैंड के फ़ुटबॉल स्टार डेविड बेकहम भी मौजूद थे लेकिन वे भी एंडी मरे को प्रेरित नहीं कर पाए.

'निराशा'

Image caption एंडी मरे ने माना कि नडाल उनसे कहीं बेहतर खेले.

जीत के बाद विश्व के नंबर एक खिलाड़ी रफ़ाएल नडाल ने बीबीसी को बताया, "ये मेरे लिए एक बहुत ही बढ़िया मैच रहा. एंडी को हराने के लिए आपको बढ़िया प्रदर्शन करना होता है. उन्हें हराना हमेशा ही एक चुनौती होती है. मैं तो यही कहूंगा कि ये एक मज़बूत खिलाड़ी के ख़िलाफ़ मिली एक बढ़िया जीत है."

उधर एंडी मरे हार से निराश दिखे. मैच के बाद मरे ने बीबीसी को बताया,"मैं निराश हूं. मुझे तीनों सेटों में मौक़े मिले लेकिन नडाल हर अवसर मुझ से अच्छा खेले. मैं ये नहीं कहूंगा कि मैंने बेहद ख़राब टेनिस खेला, हां इतना ज़रुर है कि नडाल बहुत बढ़िया खेले.

बीबीसी संवाददाता पीयर्स न्यूबेरी के मुताबिक इस मैच में नडाल ने दिखा दिया कि वो क्यों वर्ल्ड नंबर वन खिलाड़ी हैं, उन्होंने ज़ोरदार फ़ोरहैंड शॉट लगाए और कई बार हाथ से निकलते गेम भी अपने कब्ज़े में किए.

संबंधित समाचार