'मोदी को बचाने का सवाल नहीं'

शरद पवार

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है कि अगर ललित मोदी भ्रष्टाचार के दोषी पाए गए तो उन पर कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने स्पष्ट किया कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के निलंबित चेयरमैन ललित मोदी को बचाने का सवाल ही नहीं उठता.

एक समय ललित मोदी शरद पवार के काफ़ी क़रीबी माने जाते थे. लेकिन अब पवार का कहना है कि भ्रष्टाचार के आरोपों से आईपीएल की छवि ख़राब हुई है.

एक निजी टीवी चैनल के कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए पवार ने कहा, "सिर्फ़ मोदी ही नहीं किसी को भी बचाने का सवाल ही नहीं उठता. अगर किसी ने ग़लती की है, तो उसे उसका नतीजा भुगतना ही होगा."

हालाँकि पवार ने यह भी स्वीकार किया कि आईपीएल को एक अंतरराष्ट्रीय ब्रांड बनाने के लिए ललित मोदी को श्रेय मिलना चाहिए. लेकिन उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि उनके काम करने की शैली समस्या थी.

समस्या

शरद पवार ने कहा, "आईपीएल देश में काफ़ी सफल रहा है. इसने यह भी साबित किया है कि भारत भी इस क्षेत्र में ऐसा आयोजन कर सकता है. मोदी ने इसे स्थापित करने के लिए काफ़ी मेहनत की. इसमें कोई दो राय नहीं. अगर किसी ने इतना बड़ा योगदान किया है, तो इसे स्वीकार करने में कोई बुराई नहीं."

आईसीसी अध्यक्ष ने कहा कि ललित मोदी के काम करनी की शैली विवादित रही और इससे समस्याएँ पैदा हुई. उन्होंने कहा कि मौजूदा क्रिकेट बोर्ड को ये लगता है कि कई मामलों की गहराई से जाँच होनी चाहिए.

पवार ने कहा कि बीसीसीआई ने उचित क़दम उठाया है और ये आईपीएल के कामकाज और उसकी छवि को बचाने के लिए उठाए गए हैं.

उन्होंने इससे इनकार किया कि वे ललित मोदी का समर्थन कर रहे हैं.

संबंधित समाचार