सचिन ने लगाया पाँचवाँ दोहरा शतक

  • 29 जुलाई 2010
सचिन तेंदुलकर
Image caption सचिन तेंदुलकर का टेस्ट क्रिकेट में ये पांचवा दोहरा शतक है.

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने श्रीलंका के विरुद्ध कोलंबो टेस्ट में दोहरा शतक जड़ दिया है. ये उनका पाँचवाँ दोहरा शतक है.

कोलंबो क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन तेंदुलकर ने सँभलकर बल्लेबाज़ी करते हुए ये स्कोर पूरा किया.

लेकिन दोहरा शतक बनाने के बाद तेंदुलकर 203 रन बनाकर आउट हो गए.

उनके अलावा भारत के राहुल द्रविड़ और ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पॉन्टिंग भी पाँच दोहरे टेस्ट शतक मारने वाले बल्लेबाज़ हैं.

टेस्ट जीवन के 168वें मैच में तेंदुलकर ने अजंता मेंडिस के ओवर की अंतिम गेंद पर दो रन लेकर ये दोहरा शतक बनाया.

तेंदुलकर ने लगभग साढ़े पाँच साल बाद टेस्ट में दोहरा शतक बनाया है. इससे पहले उन्होंने 10 दिसंबर 2004 को ढाका में बांग्लादेश के विरुद्ध 248 रनों की नाबाद पारी खेली थी.

वही उनका टेस्ट जीवन का सर्वाधिक स्कोर भी है.

दोहरे शतक

इसके अलावा तेंदुलकर ने दो जनवरी 2004 को सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध दोहरा शतक बनाया था और उस समय वह 241 रन बनाकर नॉट आउट रहे थे.

तेंदुलकर के अन्य दो दोहरे शतक न्यूज़ीलैंड और ज़िम्बाब्वे के विरुद्ध हैं.

तेंदुलकर टेस्ट में सर्वाधिक शतक मारने वाले बल्लेबाज़ हैं. अब तक उनके कुल 48 टेस्ट शतक हो चुके हैं. वनडे में उनके 46 टेस्ट शतक हैं.

तेंदुलकर वनडे में दोहरा शतक मारने वाले एकमात्र बल्लेबाज़ हैं.

इससे पहले इसी टेस्ट में सुरेश रैना ने भी शतक बनाया और वह 120 रन बनाकर आउट हुए. रैना का ये पहला टेस्ट मैच था और उन्होंने अपने पहले ही टेस्ट में शतक बना दिया.

सर्वाधिक दोहरा शतक मारने वाले बल्लेबाज़ ऑस्ट्रेलियाई सर डॉन ब्रैडमैन हैं, जिनके नाम 12 दोहरे शतक हैं. दूसरे स्थान पर नौ दोहरे शतकों के साथ वेस्ट इंडीज़ के ब्रायन लारा हैं.

भारतीय वीरेंदर सहवाग के तेंदुलकर से ज़्यादा कुल छह दोहरे शतक हैं.

कोलंबो टेस्ट में चौथे दिन का खेल ख़त्म होने पर भारत ने नौ विकेट खोकर 669 रन बना लिए थे. अब पहली पारी के आधार पर भारत ने श्रीलंका पर 27 रनों की बढ़त बना ली है.

श्रीलंका ने पहली पारी में 642 रन बनाए थे. शुक्रवार को मैच का आख़िरी दिन है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार